11 मासूमों की भूत गेम खेलने के चक्कर में हुई मौत !

ऐसी खबर जिसे सुनकर आपके रौंगटे खड़े हो जाएंगे ! जी हाँ आप अपने कानों पर विश्वास नहीं कर पाएंगे कि 11 मासूम बच्चों की जान भूत गेम खेलने के चक्कर में चली गयी ! क्या वाकई भूतों से बात करने वाला गेम होता है ! क्या उस गेम के खेलने से जान को खतरा है ?

दरअसल एक खबर सामने आयी हैं जहां स्कूल के बाहर 11 बच्चों की लाशें मिली है ! बताया जा रहा है कि ये बच्चे भूतों से बाते करना वाला गेम खेल रहे थे ! क्या है असल सच्चाई !

कोलंबिया के एक स्कूल के बाहर 11 बच्चे मृत पाए गए हैं। ये बच्चे ओइजा बोर्ड गेम खेल रहे थे, जो भूतों को बुलाने वाला गेम होता है ! डॉक्टरों का कहना है कि फूड पॉइजनिंग के कारण उन्हें उल्टी और मांसपेशियों में दर्द का सामना करना पड़ा। कोलंबिया के हाटो में एग्रीकल्चर टेक्निकल इंस्टीट्यूट के टीचर कॉरिडोर में 11 बच्चों को मृत देखकर हैरान रह गए। इन बच्चों की उम्र 13 से 17 साल थी जिन्हें सोकोरो जिले के मैनुएला बेल्ट्रान अस्पताल ले जाया गया था।

बच्चों का एक दिन इलाज चला लेकिन उनकी बीमारी के रहस्यमयी कारण ने कर्मचारियों को हैरान कर दिया। यह कहा जा रहा है कि बच्चे ओइजा बोर्ड गेम खेल रहे थे। ओइजा एक बोर्ड होता है जिस पर अक्षर, संख्याएं और चिन्ह बने होते हैं। माना जाता है कि इसका इस्तेमाल भूतों से बात करने के लिए किया जाता है।

हाटो के मेयर जोस पाब्लो टोलोजा रोंडन ने कहा, ‘बच्चों की मौत हो चुकी है, जब उनके शव मिले तो उनका दम घुट चुका था और उनके मुंह से झाग निकल रहा था।’ उन्होंने कहा कि इस बात से इनकार नहीं किया जा सकता कि ओइजा बोर्ड को लेकर जांच जारी है। अन्य लोगों का कहना है कि उन्होंने एक ही कंटेनर से पानी पी लिया था जबकि कुछ लोग कह रहे हैं कि उन्हें कुछ खाने के लिए दिया गया था।

आईये पहले जानते हैं क्या होता है ये Ouija Board Game !

Ouija board एक प्रकार का board होता है जिसपर कुछ शब्द और संख्याएँ लिखी होती है जैसे A से Z तक , 1 से 0 तक, YES और NO, GOODBYE, आदि लिखे होते है। ये सारे सब्द आत्मो से बात करने में प्रयोग में लाये जाते है। आप ऊपर दिए गए images में देख सकते है। इस खेल को खेलें के लिए 2 या उससे ज्यादा लोगो की जरुरत होती है।

ouija board को बीच में रख कर लोगो को उसके आस पास बैठ जाना होता है। फिर सबको अपना हाथ एक के ऊपर एक रख कर ouija board पर रखना होता है। और फिर होता है असली खेल शुरू। उनमे से एक बंदा कुछ सवाल पूछना शुरू करता है। जैसे की इस रूम में हमारे अलावा और भी कोई है क्या ? अगर है तो अपना नाम बताओ ?

अगर घर में कोई आत्मा होती है तो वो इन सवालो का उत्तर उसी ouija board द्वारा देती है। खेल खेलने वालो के हाथ जो ouija board पर होते है वो अपने आप उन अक्षरों के ऊपर हिलने लगते है। जिससे उन्हें उस आत्मा का नाम पता चल जाता है।

बातचीत में पता चला है कि जिन मासूमों की जान गयी है उन्होंने एक ही गिलास से पानी पिया था। डेल सोकोरो अस्पताल के डॉक्टर जुआन पाब्लो वर्गास नोगुएरा ने कहा कि हम एल हाटो गए और हमें 13 से 17 साल के बीच 11 मरीज मिले जिन्हें उल्टी, पेट दर्द और मांसपेशियों में ऐंठन की शिकायत थी। बच्चों की मौत और ओइजा बोर्ड के बीच कनेक्शन को लेकर डॉक्टर ने कहा कि हमें बच्चों में कोई मनोवैज्ञानिक बदलाव देखने को नहीं मिला।

वहीँ मेडिकल रिपोर्ट में कहा गया है कि यह फूड पॉइजनिंग के कारण हुआ। मामले में जांच जारी है और तथ्यों की पुष्टि होना अभी बाकी है। ओइजा बोर्ड यानी भूतों वाले गेम को लेकर तमाम तरह की कहानियां प्रचलित हैं। कहा जाता है कि बोर्ड से कभी यह नहीं पूछना चाहिए कि आपकी मौत कब होगी और यह गेम कभी अकेले नहीं खेलना चाहिए।

Leave a Comment