आज 15 October: अरब देशों की 10 बड़ी खबरे जानिए विस्तार से!

1. उमराह तीर्थयात्रियों के लिए सस्ता पैकेज शुरू, इस App पर मिलेगा बुकिंग Link

हज और उमराह के सऊदी मंत्रालय द्वारा पेश किए गए ‘NASK’ ऐप के प्रशासन ने कहा है कि उमराह तीर्थयात्रियों के लिए विभिन्न सस्ते पैकेज उपलब्ध कराए जा रहे हैं। जो 830 रियाल से शुरू है. ये पैकेज मक्का और मदीना मुनावरा के आगमन की सुविधा और तीर्थयात्रियों को सुविधाएं देने के लिए हैं।

नासिक ऐप पर उपलब्ध पैकेज में उमराह वीजा, पूरा बीमा और मक्का में पांच रात का आवास फीस शामिल है। पैकेज में टिकट, भोजन और व्यक्तिगत खर्च शामिल नहीं है. हज और उमराह मंत्रालय ने नासिक में हरमन एक्सप्रेस ट्रेन की वेबसाइट का लिंक भी दिया है।. उमराह तीर्थयात्री इससे यात्रा सुविधा का लाभ उठा सकते हैं. गौरतलब है कि हज और उमराह मंत्रालय ने ‘इतमारना’ की जगह नासिक ऐप पेश किया है। परिवहन सेवाओं के क्षेत्र में हरमन एक्सप्रेस से यात्रा की सुविधा भी जोड़ी गई है.

2. Haya Card रखने वाले वीज़ा होल्डर्स भी कर सकते हैं उमराह ! 11 नवंबर से होगा चालु

सऊदी विदेश मंत्रालय में वीजा के सामान्य विभाग के सहायक महानिदेशक, खालिद अल-श्मरी ने कहा है कि कतर में विश्व कप के लिए मुस्लिम हया कार्ड धारक अब मदीना भी जा सकते हैं और उमराह भी कर सकते हैं.

बता दे कि सऊदी अरब में प्रवेश करने का यह वीजा 11 नवंबर 2022 से 18 दिसंबर 2022 तक वैध रहेगा। यानी 18 दिसंबर तक आपको सऊदी अरब में रहने का सुनहरा मौका मिलेगा और उन्हें सऊदी में एंन्ट्री करने के लिए वीज़ा भी नहीं दिखाना पड़ेगा। यानी ‘हया’ कार्ड धारकों के लिए वीजा मुफ्त है. धारक अपनी वीज़ा validation के दौरान किसी भी समय किंगडम में प्रवेश और बाहर निकल सकते है। hayya कार्ड रखने वाले वीजा धारक के लिए रहने की अवधि दो महीने है, जो 11 जनवरी 2023 को समाप्त हो जायेगी।

अगर आपको Hayya कार्ड बनवाना है तो आपको FIFA.com उपयोगकर्ता खाते का उपयोग करके hayya card का आवेदन करना होगा या लॉग इन करने के लिए एक Hayya खाते के लिए रजिस्ट्रेशन करना होगा।

3. सऊदी में सरकारी कर्मचारियों को नहीं है ये अधिकार !

सऊदी जनशक्ति और समाज कल्याण मंत्रालय ने कहा है कि “सरकारी कर्मचारी private businesses को register business करने के लिए authorized नहीं हैं. उन्हें निजी व्यवसाय का कोई कानूनी अधिकार नहीं है. ट्विटर पर मैनपावर मिनिस्ट्री से पूछा गया कि क्या टीचर्स ट्रेड के लिए बिजनेस रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं। क्या उन्हें ऑनलाइन व्यापार या ट्रेनिंग पाठ्यक्रम संचालित करने की अनुमति है?

इसके अलावा, वाणिज्य मंत्रालय का कहना है कि व्यापार पंजीकरण के लिए कई शर्तें हैं। उम्मीदवार की उम्र 18 साल से कम नहीं होनी चाहिए. दूसरी शर्त यह है कि उम्मीदवार सरकारी कर्मचारी नहीं होना चाहिए और व्यवसाय में निवेश की गई पूंजी पांच हजार रियाल से कम से कम होनी चहिये इससे नीचे की रकम से investment नहीं किया जा सकता.

वाणिज्य मंत्रालय के अनुसार, शर्तों को पूरा करने वाले स्थानीय नागरिक तुरंत व्यापार पंजीकरण के लिए आवेदन कर सकते हैं। कोई भी व्यक्ति ऑनलाइन कार्रवाई करके व्यवसाय की प्रकृति का निर्धारण कर सकता है.

4. UAE सरकार ने भारत को दी चेतावनी, एक साथ 66 बच्चों की मौत !

कुछ दिनों से एक मामला बड़े ही चर्चे में बना हुआ है जहाँ गाम्बिया में 66 बच्चों की जान चली गयी और ये भारत में बने सर्दी-खांसी के 4 कफ सिरप पीने के कारण हुई है. इस बात की जानकारी WHO यानी World Health Organisation ने खुद दी है. जी हाँ WHO ने गांबिया में हुई बच्चों की मौत के लिए भारतीय कफ सीरप को ही जिम्मेदार ठहराया है और साथ ही अलर्ट भी जारी किया था।

UAE के अबुधाबी सरकार ने भी भारत की दवाई कफ सिरप को लेकर कड़ी चेतावनी दे दी है. जी हाँ अमीरात के स्वास्थ्य विभाग (डीओएच) ने advisory जारी करते हुए कहा है कि बच्चों के लिए खांसी और सर्दी की चार दवाएं जिससे गाम्बिया में मौते हुई है उन दवाईयों को अबुधाबी में कहीं भी नहीं बेचा जाए. अगर भारत के ये syrup अबुधाबी में किसी भी मेडिकल दूकान में उपलब्ध हैं तो वे तुरंत इन्हे सील कर दें.

विभाग ने उन लोगों से आग्रह किया जिन्होंने इस दवाईयों के products को खरीदा है वे उनका इस्तेमाल नहीं करें और अगर इस्तेमाल कर लिया और जैसे ही कुछ बुरे symptoms दिखे तो फ़ौरन डॉक्टर की मदद लें. वहीँ अमीरात के निवासियों के डर को हटाने के लिए WHO के अनुसार, एक सोशल मीडिया पोस्ट में, DOH अबू धाबी ने इस बात का भी खुलासा कर दिया है कि Maiden Pharmaceuticals Limited की चार दवाईयां को UAE के किसी भी Health Sector में उपलब्ध नहीं है.

5. भारत के इस शहर से दुबई के लिए Direct Flight, न्यूनतम किराया इतना रूपया !

Air India Express ने नए उड़ानों की घोषणा करी है और ये घोषणा भारत के शहर कन्नूर से दुबई के लिए सीधी उड़ान संचालित करने को लेकर है और इस उड़ान का न्यूनतम किराया 13,119 रुपये होगा। वहीं जो यात्री वापस दुबई से वापस कन्नूर की यात्रा करेंगे। उनको न्यूनतम किराया AED 320 चुकाना होगा।

जानकारी के अनुसार, Air India Express द्वारा घोषित की गई यह फ्लाइट नवंबर से चालू होगा और इसका टिकट बुकिंग फिलहाल चालू की जा चुकी है। ऐसे में माना जा रहा है कि इस फ्लाइट के शुरू होने से उन प्रवासियों और यात्रियों को खासा लाभ मिलेगा, जो भारत और दुबई के बीच यात्रा करना चाह रहे हैं. इसी के साथ एयर इंडिया एक्सप्रेस ने ये भी जानकारी दी है कि इन उड़ानों की टिकट Air India Express की वेबसाइट/कॉल सेंटर/शहर कार्यालय के माध्यम से की जा सकती है।

6. दुबई में 20 सालों से रहता है प्रवासी, अब चमकी किस्मत ! इनाम में जीता 1 किलो सोना

अबू धाबी में आयोजित बिग टिकट इलेक्ट्रॉनिक ड्रॉ के दौरान 24 कैरेट का 1 किलोग्राम सोना जीतने का इनाम था और इस ड्रॉ में 1 किलो सोना जीतने वाले शख्स का नाम जॉर्डन के एक प्रवासी तारिक अजार का है. तारिक दुबई क निवासी है. तारिक अजार साप्ताहिक गोल्ड पुरस्कार के पहले विजेता बने हैं.

तारिक अजार 20 सालो से अमीरात में रह रहे हैं और कई सालों से खुद ही टिकट खरीद रहे थे मगर अब जाकर उनकी किस्मत चमकी है. जब बिग टिकट के प्रतिनिधियों ने उन्हें बुलाया, तो उन्होंने बताया कि लंबे समय तक प्रयास करने के बाद आखिरकार एक पुरस्कार जीतकर उन्हें बहुत खुशी हुई। वहीं उन्होंने ये भी कहा कि वह अपनी जीत को कुछ बचत के रूप में रखने और टिकट खरीदना जारी रखने की योजना बना रहा है.

7. एयरलाइन ने दी छूट, अरब से 5 Kg Extra Luggage ला सकते हैं भारतीय कामगार ! 

Air India Express ने भारतीय यात्रियों के लिए खुशखबरी दी है। फ्लाइट में ज्यादा सामान ले जाने पर आपको छूट मिलेगी। अगर कोई भारतीय प्रवासी कामगार कुवैत से कन्नूर और कोझिकोड आने की प्लानिंग कर रहा है तो उन्हें इसका बहुत फायदा मिलेगा। अब यात्री 5 किलो अधिक सामान भारत ला सकते हैं, वह भी बिल्कुल मुफ्त।

बता दे कि इस छूट का फायदा आज 15 अक्टूबर तक उठाया जा सकता है। दरअसल ये छूट कुवैत से भारत के यात्रियों के लिए है. जहाँ कन्नूर और कोझिकोड के लिए यात्री 5 किलो अधिक सामान ले जा सकते हैं। इसके लिए उनसे किसी तरह का शुल्क नहीं लिया जाएगा। आप भी इसका लाभ उठा सकते हैं।

8. सऊदी अरब में 531 नई फैक्ट्रियों को मिला लाइसेंस, भारतीयों को बड़ा फायदा !

सऊदी उद्योग और खनिज मंत्रालय ने कहा है कि जुलाई 2022 तक सऊदी अरब के औद्योगिक क्षेत्र में निवेश की कुल मात्रा 1.36 ट्रिलियन रियाल तक पहुंच गई है और अब फैक्ट्रियों की संख्या बढ़कर 10685 हो गई है।

उद्योग और खनिज मंत्रालय ने कहा कि “खनिजों के लिए प्रभावी लाइसेंसों की संख्या 2099 तक पहुंच गई है”। साथ ही उद्योग मंत्रालय का कहना है कि साल 2022 की शुरुआत से लेकर जुलाई के अंत तक नई फैक्ट्रियों के लिए 531 लाइसेंस जारी किए जा चुके हैं. इनकी कुल पूंजी 14 अरब रियाल है.

उद्योग मंत्रालय के मुताबिक इस दौरान 743 फैक्ट्रियों ने उत्पादन शुरू कर दिया है। उनका कुल निवेश करीब 20 अरब रियाल है। उद्योग क्षेत्र ने इस दौरान 26,000 नौकरियां दी है और उम्मीद है कि आगे नौकरियों की संख्या और भी बढ़ा दी जाए.

9. सऊदी अरब में शुरू हुआ महिला प्रीमियर Football League ! 6 से 17 वर्ष की लड़कियां कर सकेंगी Participate

जर्मन मुख्य कोच मोनिका स्टाब के नेतृत्व में, सऊदी टीम ने इस साल की शुरुआत में सेशेल्स और मालदीव के खिलाफ दो जीत के साथ अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में पदार्पण किया। जमीनी स्तर पर किए गए निवेश ने तीन क्षेत्रीय प्रशिक्षण केंद्रों के उद्घाटन को भी देखा है, जिसमें 6 से 17 वर्ष की सैकड़ों लड़कियों का स्वागत किया गया है. इसके अलावा, नई शुरू की गई 2022 गर्ल्स स्कूल लीग ने देश भर के 1,906 स्कूलों में 4,768 टीमों का प्रतिनिधित्व करने वाले लगभग 50,000 कुलसचिवों का स्वागत किया है.

10. अगले साल 1 जनवरी से लग जायेगा UAE के इस अमीरात में भी plastic bags पर बैन !

उम्म अल क्वैन ने अमीरात में single-use plastic bags पर ban लगाने की घोषणा की है। जो 1 जनवरी, 2023 से लागू होगा। उम्म अल क्वैन के अमीरात की Executive Council ki घोषणा के अनुसार, use में आने वाले सभी बैग बायोडिग्रेडेबल होने चाहिए, साथ ही multi-use या कागज या बुने हुए कपड़े से बने होने चाहिए। उम्म अल क्वैन नगर पालिका इस नई पालिसी को लागू करने के लिए इन चार्ज होगी वो नियम के अपवादों की पहचान करने के प्रभारी भी होगी।

Leave a Comment