Dubai में बने हिन्दू मंदिर को लेकर भड़क उठे मुस्लिम कट्टरपंथी ! बोले इतना महंगा मंदिर UAE में क्यों

दुबई के जबेल अली विलेज में चार अक्‍टूबर को एक खूबसूरत dubai हिंदू मंदिर का उद्घाटन हुआ है। अरब और भारतीय आर्किटेक्‍चर को मिलाकर बनाए गए इस मंदिर के जरिए सहिष्‍णुता, शांति और सौहार्द का संदेश देने की कोशिश की जा रही है। लेकिन अब यही मंदिर UAE के लोगों को खटक रहा है। आखिर क्यों ? इसके पीछे की राज़ आपको आज हम बताएँगे।

dubai jebel ali

UAE के लेखक अब्‍दुल्‍ला अलमादी ने कहा है कि इस मंदिर को ऐसे समय में बनवाने की क्‍या जरूरत है जब भारत में मुसलमानों पर हमले हो रहे हैं। इस मंदिर में 16 हिंदू देवी-देवताओं के साथ ही गुरुग्रंथ साहिब को भी रखा गया है। मंदिर के दरवाजे सभी धर्मों के लोगों के लिए खुले हैं। लेखक अब्‍दुल्‍ला अलमादी ने कहा क्यों बनवाया गया आखिर मंदिर !

अब्‍दुल्‍ला ने मंदिर का एक वीडियो शेयर किया और मंदिर की आलोचना की। उन्‍होंने लिखा, ‘यह बड़ा अजीब है। ऐसे समय में जब भारत में कट्टरपंथी हिंदू, मस्जिदों को तोड़ने में लगे हैं, यूएई में 16 लाख डॉलर वाले इस हिंदू मंदिर को बनावने का क्‍या औचित्‍य है?’ यह यूएई का पहला ऐसा मंदिर है जो किसी एक समुदाय के लिए है। मंदिर की तरफ से जारी बयान में कहा गया है कि यह मंदिर परंपरा का प्रतीक है जिसे आने वाले समय के लिए तैयार किया गया है।

यूएई के सहिष्णुता और सहअस्तित्व मंत्री शेख नाहन मुबारक अल नाहयन दशहरे से एक दिन पहले इस मंदिर का उद्घाटन किया। अगस्‍त महीने के अंत में मंदिर में सिखों के पवित्र ग्रुरु ग्रंथ साहिब को भी यहां रखा गया था। मंदिर अंदर से काफी खूबसूरत है और इसकी खूबसूरती देखती ही बनती है। मंदिर के मुख्‍य हॉल में ईश्‍वर की मूर्तियां स्‍थापित हैं।

hindu temple

आईये आपको बताते हैं इस दुबई हिन्दू टेम्पल की खूबसूरत नज़रों के बारे में

इस हॉल में एक बड़ा सा 3डी प्रिंटेड गुलाबी कमल है जो पूरे गुंबद पर नजर आता है और उसे खूबसूरत बना देता है। यह मंदिर ‘पूजा गांव’ के तौर पर मशहूर जबेल अली में स्थित है। यह वह जगह है जहां पर कई चर्च और गुरु नानक दरबार गुरुद्वारा स्थित है। मैनेजमेंट की तरफ से क्‍यूआर कोड आधारित एप्‍वाइंटमेंट बुकिंग सिस्‍टम सक्रिय किया गया है। वेबसाइट के जरिए इस क्‍यूआर सिस्‍टम के इस्तेमाल से दुबई के हिंदू मंदिर के लोगों ने दर्शन किए। मंदिर पांच अक्‍टूबर से officially बाकी जनता के लिए खोल दिया गया है। मंदिर सुबह 6:30 बजे से लेकर रात आठ बजे तक खुला रहता है।

Leave a Comment