फांसी की सजा पर सऊदी अरब से भिड़ा ये मुस्लिम देश, बीच में आया United Nations !

फांसी की सजा पर सऊदी अरब से भिड़ा ये मुस्लिम देश, बीच में आया United Nations !

पिछले एक महीने से सऊदी अरब में एक बार फिर से धड़ाधड़ लोगों को फांसी से लटकाया जाने लगा है और दर्जन भर से ज्यादा लोगों को सजा-ए-मौत दी जा चुकी है। इस बार मौत की सजा देने के लिए सऊदी अरब में तलवार का सहारा लिया जा रहा है !

अस्सलाम अलैकुम।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।। मैं अंदलीब अख्तर और आप देख रहे हैं Daily Saudi News !

जी हाँ सऊदी अरब में पिछले महीने 15 से ज्यादा लोगों कौ मौत की सजा दी गई है और मानवाधिकार संगठनों ने कहा है, कि जिस तरह से सऊदी अरब लोगों को मौत की सजा दे रहा है, वो दर्शाता है, कि सऊदी अरब क्राउन प्रिंस ने अंतर्राष्ट्रीय समुदाय से अपने किए गये उस वादे को तोड़ दिया है, जिसमें उन्होंने मौत की सजा पर रोक लगाने की बात कही थी।

यूनाइटेड नेशंक की रिपोर्ट के मुताबिक, यूएन के 13 स्वतंत्र मानवाधिकार विशेषज्ञों ने सऊदी अरब में मौत की सजा पाने के करीब खड़े जॉर्डन के निवासी की जान बख्श देने की अपील की है। यूएन रिपोर्ट के मुताबिक, 57 साल के जॉर्डन नागरिक को साल 2014 में सऊदी अरब की सीमा पर नशीली सामग्रियों के साथ गिरफ्तार किया गया था, जिसे सऊदी अरब सबसे गंभीर अपराध मानता है।

यूएन ह्यूमन राइट काउंसिल ने एक बड़ा बयान दिया है ! मगर ये जानने से पहले आप हमारे पेज को फॉलो कर लीजिये ताकि आप तक ज़रूरी जानकारियां पहुँचती रहे ! UN ने कहा है कि, “अंतर्राष्ट्रीय कानून के तहत, जिन देशों ने अभी तक मृत्युदंड को समाप्त नहीं किया है, वे इसे केवल ‘सबसे गंभीर अपराधों’ के लिए ही लागू कर सकते हैं, जिसमें जानबूझकर हत्या करना भी शामिल है।”

यूएन ने कहा कि, “नशीली दवाओं के दोषियों के लिए मौत की सजा को समाप्त करना चाहिए।” गौरतलब है कि सऊदी अरब में नवंबर महीने की शुरूआत से अभी तक 21 लोगों को मौत की सजा दी गई है। सऊदी अरब में तलवार से सिर कलम किए जा रहे हैं और यूनाइटेड नेशंस ने इसी पर गहरी चिंता जताई है।
और संयुक्त राष्ट्र एजेंसियों और मानवाधिकार समूहों ने इस देश में मौत की सजा को समाप्त करने की मांग की है। मानवाधिकार कार्यकर्ता विशेष रूप से नशीली दवाओं से संबंधित अपराधों के लिए फांसी को फिर से शुरू करने के सऊदी फैसले से चिंतित है , इसे ‘गहरा अफसोसजनक कदमह्व बताया।

उन्होंने याद दिलाया कि संयुक्त राष्ट्र महासभा में दुनिया भर में मौत की सजा पर रोक लगाने के लिए देशों के व्यापक सहमति के कुछ दिनों बाद ही नशीली दवाओं और अन्य आरोपों पर यह फिर शुरू हो गया। इलसिए अब यूनाइटेड नेशंस और मानवाधिकार समूहों ने सऊदी में मौत की सजा को समाप्त करने की मांग की है.

खबर पसंद आयी हो तो एक Like ज़रूर करे और वीडियो को शेयर करना न भूले !

हम लाते रहेंगे ऐसी ही तमाम जानकारियां ।।।।।।।।।।।।।।।।।।। तब तक देखते रहिये Daily Saudi News !

Leave a Comment