HomeSaudi Arabiaसऊदी अरब के नागरिक पिछले 30 सालों से खा रहे थे लैट्रिन...

सऊदी अरब के नागरिक पिछले 30 सालों से खा रहे थे लैट्रिन वाला समोसा ! जानिए कैसे बनाते थे बावरची

सऊदी अरब के रेस्तरां में एक बहुत ही बड़ी घटना सामने आई है। जहाँ ग्राहकों को ऐसा खाना खिलाया जा रहा था जिसे जानकार आप चौंक जाएंगे। रेस्टोरेंट में फ़ूड चेन्स को साफ़-सफाई का एक्स्ट्रा ख्याल रखा जाता है. मगर यहाँ सब कुछ उलटा था. जी हाँ सऊदी अरब में एक रेस्त्रां लोगों को टॉयलेट के अंदर बनाया गया समोसा सर्व कर रहा था.

samosa

सऊदी ग्राहकों को इतने सालों तक खिलाया गया टॉयलेट में बना समोसा

सबसे हैरत की बात तो ये है कि ये समोसा खाने के लिए दूर-दूर से लोग आते थे. बात अगर सड़क के किनारे बने समोसे की करें, तो लोगों की आंखों के सामने पता चल जाता है कि खाना कैसे बनाया जा रहा है? लेकिन अगर रेस्त्रां में जाकर खाया जाए, तो उसके किचन पर इंसान की नजर नहीं पड़ती. ऐसे में रेस्त्रां के डाइनिंग एरिया की सफाई देखकर इंसान किचन के हाइजीन का अंदाजा लगा लेता है. टॉयलेट में बनने वाला समोसा जेद्दाह के एक रेस्त्रां में बन रहा था. सूचना मिलते ही इस होटल को बंद कर दिया गया. खुलासा हुआ कि ये रेस्त्रां पिछले तीस साल से लोगों को टॉयलेट में पका खाना सर्व कर रहा था. उसके पास कीचन नहीं था. सूत्रों के मुताबिक़, इस रेस्त्रां के बेकार खाने की शिकायत जेद्दाह म्युनिसिपालिटी को की गयी थी. इसके बाद अधिकारियों को पता चला कि ये रेस्त्रां खराब हो चुके खाने को ही सर्व करता है.

हुआ चौंका देने वाला खुलासा

कुछ फ़ूड आइटम्स दो साल पहले ही एक्सपायर हो चुके थे. इन्हें ही लोगों को खिला दिया जाता था. इन शिकायतों के बाद जब रेस्त्रां में छापा मारा गया, तो सबके होश उड़ गए. अंदर कीड़े और चूहों की फ़ौज भी मिली. जांच में ये बात भी सामने आई कि रेस्त्रां में उन मजदूरों से खाना बनवाया जाता था जिनके पास रेसिडेंस रिक्वायरमेंट न होने की वजह से काम मिलने का कोई स्कोप नहीं था. उसके पास हेल्थ कार्ड तक नहीं था. सऊदी अरब के सख्त नियमों के बीच ये पहली बार हुआ कि किसी रेस्त्रां को गंदगी की वजह से बंद करवाया गया.

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

Most Popular