अगर आपके पास भारत का ड्राइविंग लाइसेंस है तो क्या आप सऊदी अरब में ड्राइविंग कर सकते हैं !

भारतीय ड्राइविंग लाइसेंस से आप अपने देश में तो गाड़ी चला ही सकते हैं, लेकिन क्या जानते हैं कि इंडियन ड्राइविंग लाइसेंस की मदद से विदेशों में भी वाहन चलाया जा सकता है !

हालांकि, किसी भी देश में गाड़ी चलाने के लिए सबसे जरूरी होता है, ड्राइविंग लाइसेंस। क्या आप ये जानते हैं कि भारतीय ड्राइविंग लाइसेंस की मदद से दुनिया के कुछ बेहतरीन देशों में भी ड्राइविंग का मजा लिया जा सकता है। अगर आप ये बात नहीं जानते, तो चलिए आज हम आपको इस वीडियो में बताते हैं,

देशों में गाड़ी चलाने के लिए आपके पास इंटरनेशनल ड्राइविंग परमिट होना जरूरी है। सऊदी अरब में अधिकतर भारतीयों का आना जाना लगा रहता है ! कुछ लोगों के मन में ये सवाल भी रहता है कि ‘क्या सऊदी अरब देश में विजिट वीजा पर आने वाले लोग ड्राइव कर सकते हैं? क्या अंतरराष्ट्रीय ड्राइविंग लाइसेंस की अनुमति है?

इसके जवाब में यातायात पुलिस विभाग ने कहा कि जो लोग विजिट वीजा पर आते हैं और जिनके पास सऊदी अरब में स्वीकार्य देशों से ड्राइविंग लाइसेंस है, इसके अलावा राज्य में स्वीकृत अंतरराष्ट्रीय ड्राइविंग लाइसेंस धारकों को भी गाड़ी चलाने की अनुमति है. विज़िटर के पास ड्राइव करने के लिए एक अनुमोदित अंतर्राष्ट्रीय ड्राइविंग लाइसेंस होना चाहिए, जिसकी प्रविष्टि वाहन किराए पर लेते समय पेश करनी होगी।

बता दे कि अंतर्राष्ट्रीय ड्राइविंग लाइसेंस वैध होना चाहिए, जबकि visitors इस लाइसेंस पर वीज़ा की अवधि के लिए ड्राइव कर सकता है। थर्ड पार्टी या कॉम्प्रिहेंसिव इंश्योरेंस पॉलिसी के नियमों के बारे में ट्रैफिक पुलिस ने कहा कि यह उस इन्शुरन्स कंपनी पर निर्भर करता है जिससे पॉलिसी ली जाती है. इन्शुरन्स पॉलिसी के संबंध में सबसे महत्वपूर्ण बिंदु सऊदी अरब यातायात विभाग की सूची में शामिल कंपनी से इन्शुरन्स लेना है ताकि वे इन्शुरन्स को ट्रैफिक पुलिस सिस्टम से जोड़ सकें।

एक कंपनी जो सऊदी ट्रैफिक पुलिस विभाग की प्रणाली में registered नहीं है, या उसके पास कोई इन्शुरन्स पॉलिसी नहीं है, इसलिए Insurance लेने से पहले, यह सुनिश्चित किया जाना चाहिए कि कंपनी ट्रैफिक पुलिस पोर्टल पर उपलब्ध है. जो व्यक्ति अपने करीबी रिश्तेदार का वाहन चलाना चाहते हैं, उन्हें वाहन चलाने से पहले यातायात पुलिस से एक डिजिटल NOC लेनी होगी। जिसे आप चाहे तो सऊदी के अबशर पोर्टल से ले सकते हैं !

आईये अब आपको उन 10 देशों के नाम बताते हैं देश जहां भारतीय ड्राइविंग लाइसेंस की मदद से चला सकते हैं गाड़ी :

1. सबसे पहला अमेरिका : अमेरिका में आप अपने भारतीय लाइसेंस पर एक साल तक गाड़ी चला सकते हैं। इसके लिए आपका लाइसेंस वैलिड और अंग्रेजी में होना चाहिए। अगर लाइसेंस आपका अंग्रेजी में नहीं बना है या वैध नहीं है, तो आप इंटरनेशनल ड्राइविंग लाइसेंस से अमेरिका में गाड़ी नहीं चला सकते।

2. जर्मनी : यहां आप भारतीय लाइसेंस पर 6 महीने तक गाड़ी चला सकते हैं। यहां इंटरनेशनल ड्राइविंग लाइसेंस की जरुरत नहीं पड़ती।

3. साउथ अफ्रीका: अमेरिका और जर्मनी की ही तरह साउथ अफ्रीका में भी आपका भारतीय लाइसेंस किसी क्षेत्रीय भाषा में नहीं बल्कि अंग्रेजी में होना चाहिए।

4. न्यूजीलैंड: इस देश में गाड़ी दौड़ाने के लिए आपका 21 साल का होना बेहद जरूरी है। इसके अलावा आपका ड्राइविंग लाइसेंस अंग्रेजी में होना चाहिए।

5. norway: इस देश में आप भारतीय ड्राइविंग लाइसेंस से कुल तीन महीने तक गाड़ी चला सकते हैं।

6. switzerland: आपको अंग्रेजी भाषा में लिखे भारतीय लाइसेंस की आवश्यकता होगी। यहां आप एक साल तक के लिए ड्राइविंग कर सकते हैं।

7. Australia : न्यू साउथ वेल्स, क्वीनलैंड और साउथ ऑस्ट्रेलिया में आपका भारतीय लाइसेंस इन सभी जगहों पर वैलिड होगा। लेकिन उत्तरी ऑस्ट्रेलिया में आपको सिर्फ तीन महीने ही गाडी चलाने की अनुमति है।

8. कनाडा : कनाडा को मिनी पंजाब भी कहते हैं। अगर आप यहां की चौड़ी सड़कों पर गाड़ी चलाना चाहते हैं, तो आपके पास इंटरनेशनल ड्राइविंग लाइसेंस अंग्रेजी भाषा में होना चाहिए। भारतीय डीएल 60 दिनों के लिए वैध होता है.

9. फ्रांस: यहाँ आप इंडियन लाइंसेस की मदद से सड़कों पर गाड़ी दौड़ा सकते हैं। इस देश में एक साल तक के लिए ड्राइविंग करने की अनुमति होती है। लेकिन इस देश में आपका लाइसेंस अंग्रेजी में नहीं बल्कि फ्रांसीसी भाषा में होना चाहिए।

10. सिंगापुर: यहां की सरकार विदेशी मेहमानों को उनके इंटरनेशनल ड्राइविंग लाइसेंस पर 1 साल तक के लिए ड्राइविंग करने की अनुमति देती है।

Leave a Comment