सऊदी अरब में लागू हुआ नया कानून ! भारतीयों को सीधे 5 साल की जेल और 30 लाख का जुर्माना

सऊदी पब्लिक प्रॉसिक्यूशन ने चेतावनी दी है कि सोशल मीडिया पर अगर किसी तरह की शरारत या किसी का मज़ाक बनाना अब कानूनन जुर्म कहलायेगा। ऐसे लोगों पर 5 साल की जेल और 30 लाख रियाल का जुर्माना लगाया जाएगा. लोक अभियोजन ने चेतावनी दी कि धार्मिक मूल्यों, सामाजिक रीति-रिवाजों या राष्ट्रीय व्यवस्था को नुकसान पहुँचाने वाली कोई भी चीज़ का मज़ाक बनाना या या निजी जीवन का उल्लंघन करना भी जुर्म है.

social

ऐसी चीजों को इंटरनेट या कंप्यूटर में स्टोर नहीं करना चाहिए। यह कारावास और जुर्माने से दंडनीय है. पब्लिक प्रॉसिक्यूशन ने कहा कि इस तरह की किसी भी गतिविधि में शामिल पाए जाने वाले को 5 साल तक की कैद और 30 लाख रियाल तक के जुर्माने की सजा हो सकती है.

पब्लिक प्रॉसिक्यूशन ने कहा कि ‘ऐसा कोई भी काम या गतिविधि जिससे किसी की बदनामी हो उससे बचना चाहिए। स्मार्टफोन का उपयोग केवल उन्हीं उद्देश्यों के लिए किया जाना चाहिए जिनके लिए इसे बनाया गया है। ‘कार्यालय के कर्मचारियों या आगंतुकों की तस्वीरें लेना, वीडियो बनाना, उनका प्रचार करना, उन्हें मोबाइल फोन के माध्यम से नुकसान पहुंचाना चीजों को फैलाने के लिए तकनीक का उपयोग करना दंडनीय कार्य है।’

likes

पब्लिक प्रॉसिक्यूशन का कहना है कि ‘जो कोई भी किसी के निजी जीवन को नुकसान पहुंचाने की कोशिश करेगा या मोबाइल कैमरे के जरिए किसी का विज्ञापन करेगा, उसे कारावास और जुर्माने से दंडित किया जाएगा। इसके अलावा कानूनी विशेषज्ञों ने कहा है कि सोशल मीडिया पर ऐसी वीडियो क्लिप जारी करना कानूनी अपराध है जिसका मकसद किसी का मजाक उड़ाना हो. इससे बचना चाहिए।

Leave a Comment