तख्‍तापलट और सऊदी अरब मुट्ठी में, जानिए कैसे क्राउन प्रिंस बन बैठे मोहम्‍मद बिन सलमान !

तख्‍तापलट और सऊदी अरब मुट्ठी में, जानिए कैसे क्राउन प्रिंस बन बैठे मोहम्‍मद बिन सलमान !

अस्सलाम अलैकुम।।।।।।।।।।।।।।।।।।। मैं अंदलीब अख्तर और आप देख रहे हैं Daily Saudi News !

मोहम्‍मद बिन सलमान न सिर्फ सऊदी अरब बल्कि दुनिया के वो शख्‍स जिनके बिना अंतरराष्‍ट्रीय राजनीति की कल्‍पना करना बेमानी है। इस साल 27 सितंबर को सऊदी किंग सलमान ने उन्‍हें देश का प्रधानमंत्री बनाया। इससे पहले यह पद सुल्‍तान के पास ही था। एमबीएस के पास ही देश का रक्षा मंत्रालय भी है। सऊदी अरब के मामलों के जानकारों की मानें तो खाड़ी देश अमेरिका या दूसरे पश्चिमी देशों पर क्‍या फैसला लेंगे, इसका फैसला एमबीएस ही करते हैं।

आपको जानकर हैरानी होगी कि आज मोहम्‍मद बिन सलमान इतने ताकतवर हैं लेकिन एक समय पर वह नहीं बल्कि उनके चचेरे भाई मोहम्‍मद बिन नयाफ की किस्‍मत में यह रुतबा लिखा था। लेकिन एक तख्‍तापलट ने यह सारी शोहरत एमबीएस के हिस्‍से कर दी। सौम्‍य से नजर आने वाले एमबीएस बहुत ही शातिर हैं। अपने ही भाई का तख्‍तापलट कर, अपनी हुकूमत कायम करने की मोहम्मद बिन सलमान की यह कहानी किसी फिल्‍म सी लगती है और डराती भी है। जानिए तख्‍तापलट की इसी कहानी के बारे में।

सिर्फ 31 साल की उम्र में जिस तरह से एमबीएस सऊदी क्राउन प्रिंस, उसने सबको हैरान कर दिया था। किंग सलमान की तरफ से साल 2015 में उन्‍हें सऊदी का क्राउन प्रिंस बनाने का ऐलान किया गया था। उस समय खबरें आईं कि एमबीएस के चचेरे भाई मोहम्‍मद बिन नायफ जो उनसे उम्र में काफी बड़े थे, उन्‍होंने मजबूरन अपना पद छोड़ दिया है। इस पद पर आने से से पहले वह पिता किंग सलमान के सलाहकार थे। साल 2009 में उन्‍हें इस पद पर नियुक्‍त किया गया था।

आगे बढ़ने से पहले हमारे पेज को फॉलो कर लीजिये ताकि हर खबर आप तक पहुँचती रहे !

साल 2012 में किंग सलमान को जब क्राउन प्रिंस नियुक्‍त किया तो एमबीएस की महत्‍वकांक्षाएं भी बढ़ने लगीं। 20 जून 2017 को एमबीएस ने वह कर दिया जिसकी शायद कल्‍पना तक नहीं की गई थी। उसी दिन किंग सलमान को राजनीतिक और सुरक्षा परिषद की मीटिंग के लिए रवाना होना था। मीटिंग रात 11 बजे शुरू होने वाली थी लेकिन इससे पहले एमबीएन के फोन पर एक कॉल आई। यह फोन कॉल एमबीएस की थी और नायफ ने इसे एक सामान्‍य फोन कॉल समझा था। जब उन्‍होंने फोन हटाया तो एमबीएस ने कहा कि सुल्‍तान उनसे मिलना चाहते हैं।

उन्‍होंने अपने चचेरे भाई नायफ को मक्‍का स्थित शाही महल में बुलाया गय। पिछले दो दशकों से नायफ देश के सबसे ताकतवर शख्‍स बने हुए थे। करीबी सूत्रों के मुताबिक नायफ जिन्‍हें एमबीएन के नाम से जानते हैं, उन्‍हें सुल्‍तान ने पद छोड़ने के लिए कह दिया।

सूत्रों के हवाले से बताया है कि सुल्‍तान उस समय एमबीएन से मिलने आए जब वह अकेले थे। सुल्‍तान ने उनसे कहा, ‘मैं चाहता हूं कि तुम अपना पद छोड़ दो। तुमने उस सलाह को भी नहीं माना जो तुम्‍हे इलाज के तौर पर दी गई थी ताकि तुम अपने नशे से छुटकारा पा सको। नायफ समझ चुके थे कि यह एक ऐसा तख्‍तापलट है जिसके लिए वह कभी तैयार ही नहीं थे।

सूत्रों की तरफ से उस समय बताया गया था कि नायेफ को राष्‍ट्रीय हितों के चलते हटाया गया था। उन्‍हें हटाने की वजहें भी गुप्‍त रखी गई थीं। जैसे ही नायफ किंग सलमान से मीटिंग करके निकले, एमबीएस उनका इंतजार कर रहे थे। उन्‍होंने अपने चचेरे भाई को गले लगाया और उन्‍हें चूमा। इसके कुछ ही समय बाद ऐलान कर दिया गया कि किंग ने एमबीएस को क्राउन प्रिंस बनाने का ऐलान किया।

खबर पसंद आयी हो तो एक Like ज़रूर करें ! हम लाते रहेंगे ऐसी ही तमाम जानकारियां !

तब तक देखते रहिये Daily Saudi News !

Leave a Comment