IPS Marin Joseph ने रेप के आरोपी को सऊदी अरब से दबोच कर लाया भारत !

इंडियन पुलिस सर्विस (IPS) में कई दमदार ऑफिसर्स हैं, जो अपने डेयरिंग कामों के लिए चर्चा में रहते हैं. एक ऐसी ही IPS जो डेरिंग के साथ साथ बेहद खूबसूरत officer हैं जिन्होंने सऊदी अरब से एक आरोपी को दबोचकर भारत लाया है ! आरोपी ने ऐसा कौन सा जुर्म किया था जिससे IPS को सऊदी अरब जाना पड़ा !

IPS मेरिन जोसेफ की गिनती देश की सबसे खूबसूरत और हिम्मती महिला ऑफिसर्स में की जाती है. इनकी सक्सेस स्टोरी अन्य लड़कियों के लिए प्रेरणा है. बता दे कि आईपीएस मेरिन जोसेफ केरल की रहने वाली हैं. उन्होंने अपने पहले ही प्रयास में UPSC Exam पास कर ली थी. उनके पति का नाम डॉ. क्रिस अब्राहम है.

इन्होने अपने करियर में एक ऐसा काम कर गुज़ारा जिसे सुनकर आप इन्हे salute करेंगे ! जी हाँ IPS मरीन जोसफ ने रेप के आरोपी को सऊदी अरब से धृ दबोचा। एक मासूम बच्ची के साथ ज़बरदस्ती करने के बाद आरोपी फरार था. मगर IPS ने इसे ढूंढ निकाला और आखिरकार भगोड़े आरोपी को पकड़ ही लिया ! मेरिन जोसेफ रेप के आरोपी को सऊदी अरब से दबोच लाई थीं. उसके बाद से वे चर्चा में आ गई थीं.

आईये अब जानते हैं IPS मेरिन जोसेफ की सक्सेस स्टोरी

मेरिन जोसेफ का जन्म केरल के एर्नाकुलम में 20 अप्रैल 1990 को हुआ था. उनके जन्म के कुछ समय बाद उनके माता-पिता दिल्ली शिफ्ट हो गए थे. उनके पिता कृषि मंत्रालय में प्रिंसिपल एडवाइजर हैं. वहीं, उनकी मां इकोनॉमिक्स की टीचर हैं. मेरिन ने कॉन्वेंट ऑफ जीसस एंड मैरी स्कूल, नई दिल्ली से स्कूलिंग की है. इसके बाद दिल्ली यूनिवर्सिटी के सेंट स्टीफन्स कॉलेज से B.A (ऑनर्स) की डिग्री ली.

मेरिन जोसेफ शुरू से ही सिविल सर्विस (Civil Service) से काफी प्रभावित थीं. वे पढ़ाई में काफी होशियार थीं और उनके घर पर भी पढ़ाई-लिखाई का माहौल रहता था. वे बचपन से ही यूपीएससी परीक्षा (UPSC Exam) में सफल होकर सिविल सर्विस में जाना चाहती थीं. कॉलेज में पढ़ाई के दौरान उनकी मुलाकात क्रिस से हुई थी. प्रोफेशनल लाइफ में सेटल होने के बाद 2015 में दोनों ने शादी कर ली थी.

मेरिन जोसेफ ने दिल्ली के मुखर्जी नगर से यूपीएससी परीक्षा की कोचिंग ली थी. मेरिन ने यूपीएससी परीक्षा के अपने पहले ही प्रयास में 188वीं रैंक हासिल की थी (IPS Merin Joseph Rank). उस समय उनकी उम्र 25 वर्ष थी. उन्हें IAS, IPS, IFS और IRS सर्विस के ऑप्शन दिए गए थे. इसमें उन्होंने IPS को वरीयता दी थी. उनकी ट्रेनिंग हैदराबाद के सरदार वल्लभभाई पटेल नेशनल पुलिस अकादमी में हुई थी.

ट्रेनिंग खत्म हो जाने के बाद उनकी पहली पोस्टिंग एर्नाकुलम में हुई थी. वहां वे बतौर ASP-अंडर ट्रेनिंग अधिकारी के तौर पर तैनात थीं. वो केरल कैडर की सबसे कम उम्र की IPS अधिकारी हैं. 2016 में IPS मेरिन जोसेफ राज्य स्वतंत्रता दिवस परेड को कमांड करने वाली सबसे कम उम्र की ऑफिसर बनी थीं.
IPS Merin Joseph Posting को केरल में पोस्टिंग के दौरान पता चला कि 2 साल की बच्ची से रेप का एक आरोपी पुलिस की गिरफ्त से बाहर है.

इसके बाद उन्होंने उसे पकड़ने के लिए ज़मीन-आसमान एक कर दिया. आरोपी सुनील कुमार भद्रन रियाद भाग गया था. मेरिन जोसेफ उसे वहां से पकड़कर लाई थीं. इसके बाद उनकी काफी चर्चा हुई थी. IPS मेरिन जोसेफ सोशल मीडिया पर काफी लोकप्रिय हैं. वे अपनी उपलब्धियों और खास व्यक्तित्व के लिए प्रसिद्ध हैं.

Leave a Comment