हज यात्रा के दौरान तीर्थयात्री ने किया जमकर हंगामा ! कहा “छतरी नहीं चाय चाहिए”

हज तीर्थयात्री ने कर दी इस चीज़ की मांग

सऊदी अरब में इन दिनों हज यात्रा की शुरुआत हो चुकी है और किंगडम में गर्मी भी अपने चरम पर है. ऐसे में हज मंत्रालय ने हाजियों को ये चेतावनी भी दी थी कि हज यात्रा के दौरान ज़ाएरीन छतरी का इस्तेमाल ज़रूर करे ताकि चिलचिलाती धुप उनके शरीर पारा सीधे न पड़े. मगर एक एक तीर्थ यात्री ने इस पर बहुत हल्ला मचाया।

arafat
arafat

मना कर दिया छतरी लेने से, कहा नहीं चाहिए मुझे

हज के अराफा के वक्फ के दौरान, मिस्र का एक तीर्थयात्री चाय की मांग करने लगा और जब उसकी मांग पूरी न हो सकी तो वो बहुत चिड़चिड़ा गया. तभी एक स्वयंसेवकों ने उसे धूप से बचाने के लिए एक छाता दिया, लेकिन उन्होंने लेने से इंकार कर दिया और कहा कि “मुझे छतरी नहीं चाय चहिये।” वक्फ अराफा के दिन, मिस्र का एक तीर्थयात्री अराफात में चाय माँगने में व्यस्त था, जब सऊदी स्वयंसेवक ने उसे परेशान देखा और सोचा कि वह धुप से थक गया है जिस पर स्वयंसेवकों ने उसे एक छाता देना चाहा मगर उसने लेने से मना कर दिया।

arafat day
arafat day

बाद में दी स्वयंसेवकों को दुआएं, कहा, “अल्लाह आपकी हर मुराद पूरी करे

मिस्र के तीर्थयात्री ने यह कहते हुए छाता लौटा दिया कि उसे यह नहीं चाहिए। सऊदी स्वयंसेवक ने उससे कहा कि वह इतनी गर्मी में चाय कैसे पीएगा। तीर्थयात्री ने कहा “मुझे गर्मी कम करने के लिए चाय दो। मुझे चाय चाहिए, छाता नहीं।” हाजी की ज़िद को देखकर, जब स्वयंसेवकों ने उन्हें चाय पिलाई, तो वह खुश हो गए और स्वयंसेवकों से कहा, “अल्लाह आपकी हर मुराद पूरी करे और हमेशा खुश रहें।”

Leave a Comment