HomeSaudi Arabiaआज 18 जुलाई की अरब देशों की 10 बड़ी खबरें जानिये विस्तार...

आज 18 जुलाई की अरब देशों की 10 बड़ी खबरें जानिये विस्तार से !

1. Gold Rate: सऊदी अरब में रातो-रात सोने के भाव ने छुआ असामान ! खरीदारी से पहले जानिए नया रेट

सऊदी अरब में अभी कुछ दिनों से सोने के दाम में गिरावट थी मगर अब एक बार फिर से सोने की कीमत तेज़ी से बढ़ते हुए देखी जा रही है. बीते दिन रविवार को किंगडम में एक ग्राम सोने की कीमत में शनिवार की तुलना में एक रियाल की बढ़ोतरी हुई. बता दे कि पिछले दस दिनों से सोने की कीमतों में गिरावट के बाद रविवार को इसमें तेजी दर्ज की गई.

बता दे कि 10 दिनों के दौरान सोने की कीमतों में 10 रियाल प्रति ग्राम से ज्यादा की गिरावट आई थी. कल रविवार को 24 कैरेट सोना प्रति ग्राम 207.04 रियाल पर उपलब्ध था, जबकि 21 कैरेट सोने का भाव प्रति ग्राम 181.61 रियाल था। 18 कैरेट सोना 155.28 रियाल प्रति ग्राम पर बिका।

2. बाइडेन के सऊदी अरब से रवाना होते ही जमाल खशोगी के वकील को 3 साल की जेल ! मगर UAE कोर्ट ने क्यों सुनायी सजा

सऊदी अरब में अमेरिकी राष्ट्रपति बाइडेन का जमकर स्वागत किया गया और दोनों देशो की सरकारों के बीच कई सारी बातचीत भी हुई. अब बाइडेन रवाना हो चुके हैं और उनके रवाना होते ही एक बड़ी खबर सामने आयी है. जहाँ जमाल खशोगी के वकील को 3 साल की जेल की सज़ा सूना दी गयी. संयुक्त अरब अमीरात ने अमेरिकी नागरिक और जमाल खशोगी के पूर्व वकील असीम गफूर को धन शोधन और कर धोखाधड़ी के आरोप में तीन साल की सजा सुनाई है।

गौरतलब है कि आज से लगभग 5 साल पहले सऊदी अरब के पत्रकार खशोगी की 2018 में इस्तांबुल स्थित सऊदी अरब दूतावास में हत्या कर दी गई थी। यूएई की सरकारी समाचार एजेंसी डब्ल्यूएएम ने शनिवार देर रात की अपनी रिपोर्ट में कहा कि गफूर का प्रत्यर्पण किया जाएगा। हालांकि, प्रत्यर्पण कब किया जाएगा, इस बारे में विस्तृत जानकारी नहीं दी गई है। अबू धाबी धन शोधन अदालत ने यह भी आदेश दिया कि गफूर को 8,16,748 डॉलर का जुर्माना भरना होगा।

journalist jamal khashogi

दो दिन पहले सऊदी अरब दौरे पर पहुंचे अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेेन ने सऊदी अरब के क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान के साथ सऊदी पत्रकार जमाल खशोगी की 2018 में हुई हत्या का मामला उठाया। बाइडन ने कहा कि मैंने स्पष्ट कहा कि एक अमेरिकी राष्ट्रपति होने के नाते मानवाधिकार के किसी मामले पर चुप रहना, जो मैं हूं या जो हम हैं, उस पहचान से मेल नहीं खाता। मैं हमारे मूल्यों के लिए हमेशा खड़ा होऊंगा।

3. सऊदी सरकार के बड़े फैसले से भारतवासियों को मिली राहत ! जानिए क्या है मामला

सऊदी अरब ने कोरोना से जुड़े सारे प्रतिबंधों को हटा दिया है, जिससे दुनिया भर के देशों समेत भारत वासियों को यात्रा में अब आसानी हो गयी है. सुविधाजनक भारत के हज यात्री हज करने सऊदी गए और सब कुछ अच्छे तरीका से सफल हो गया. दरअसल, सऊदी अरब ने कोरोनाकाल में वायरस के फैलाव को रोकने के लिए आवश्यक प्रतिबंध लगाए थे।

सार्वजनिक जगहों के साथ ही बंद जगहों पर भी मास्क लगाने की जरूरत नहीं रहेगी। अब स्थिति काफी हद तक अच्छी हो गई है। सऊदी में रहने वाले भारतीयों समेत सभी के लिए ये एक राहत है. मगर मस्जिदों में अभी भी मास्क पहनना अनिवार्य रहेगा। खासतौर पर मक्का में ग्रैंड मस्जिद और मदीना में पैगंबर की मस्जिद में मास्क पहनना होगा। हज यात्रा तो कम्पलीट हो चूका है और हाजी अपने अपने वतन लौटने की तैयारी में हैं.

हज व उमराह मंत्रालय ने उमराह दुबारा से शुरू कर देने की घोषणा कर दी है। अब तो उमराह करने वालों के लिए एप्लीकेशन फॉर्म भरना भी शुरू हो चुका है। वहीँ इस बीच बच्चों के उमराह करने की उम्र कितनी होनी चाहिए इसकी घोषणा भी मंत्रालय ने कर दी है. उमराह परमिट जारी करने के लिए, उम्मीदवार की आयु कम से कम पांच वर्ष होनी चाहिए।

मगर शर्त ये है कि वह कोरोना वायरस से संक्रमित न हो या किसी कोरोना वायरस के निकट संपर्क में न रहा हो। साथ ही vaccinated भी होना ज़रूरी है. हज मंत्रालय ने अपने ट्विटर अकाउंट पर एक बयान जारी किया और कहा कि बच्चे अपने माता-पिता के साथ मस्जिद अल-हरम में नमाज के लिए भी आ सकते हैं, लेकिन बच्चे की उम्र कम से कम पांच साल होनी चाहिए.

4. मक्का-मदीना में ज़बरदस्त खौफनाक हादसा, पुल से गिरे 7 लोगों के चलते हुई 1,426 लोगों की मौत !

सऊदी अरब में अभी अभी हज यात्रा सफल हुआ है. विदेशी हाजी अब अपने अपने वतन लौटने की तैयारी में है. मगर हज यात्रा पर गए कई लोगों को एक हादसा तो याद होगा जो आज से लगभग 30 साल पहले हुई थी. साल 1990 3 जुलाई को एक ऐसा घातक और खौफनाक हादसा हुआ जिसमे हज़ारों की संख्या में हाजी मारे गए थे.

दरअसल सऊदी अरब में स्थित मक्का की अल-मआजिम सुरंग में अचानक से भगदड़ मच गई थी. जानकारी के अनुसार, इस हादसे में 1426 हज यात्री मारे गए थे. ये वही सुरंग है, जो मक्का को मिना से जोड़ने का काम करती है. सुरंग की बात करें, तो यह 550 मीटर लंबी (1800 फीट) और 10 मीटर तक चौड़ी (35 फीट) है. ये सुरंग मक्का के आसपास की पवित्र जगहों पर इन्फ्रास्ट्रक्चर निर्माण करने के लिए शुरू किए गए 15 बिलियन डॉलर के प्रोजेक्ट का ही हिस्सा थी. इस प्रोजेक्ट की शुरुआत सऊदी अरब सरकार ने हादसे से दो साल पहले की थी.

mecca tunnel

जब तीर्थयात्री सुबह शैतान को पत्थर मारने की प्रक्रिया कर रहे थे. उसी दौरान टनल में भगदड़ मच गयी. हादसा ऐसा हुआ कि पैदल यात्रा के लिए इस्तेमाल होने वाले एक पुल की रेलिंग मुड़ गई थी, जिससे सात लोग पुल से नीच गिर गए. गिरने वाले 7 लोग ये लोग सुरंग से बाहर निकलने वाले लोगों के ऊपर गिर गए थे. सुरंग में केवल 1000 लोगों की क्षमता थी, जबकि 3 जुलाई को इसमें 5000 लोग थे. वहीं बाहर तापमान 44 डिग्री सेल्सियस पहुंच गया था. सुरंग का वेंटिलेशन सिस्टम भी तब तक फेल हो गया. इसकी वजह से भी कई लोगों की मौत हुई.

जिन लोगों की इस हादसे में मौत हुई उनमें से अधिकतर मलेशिया, इंडोनेशिया और पाकिस्तान मूल के थे. हादसे के तुरंत बाद किंग फहाद ने कहा था कि घटना ‘खुदा की मर्जी से हुई है, जो सबसे ऊपर है. इंडोनेशिया से कई लोग मरे थे. इंडोनेशिया के अधिकारियों ने सऊदी अरब सरकार की निंदा की थी. उन्होंने कहा था कि खुदा की मर्जी बताकर सऊदी अरब सरकार सुरंग हादसे की जिम्मेदारी लेने से बच नहीं सकती है.

5. भारतीय हज यात्री सऊदी अरब में बेफिक्र होकर ख़रीदे तोहफे ! Indian Rupee भी दे सकते हैं जानिए कैसे

सऊदी अरब में हाजी अपना हज पूरा करके शॉपिंग ज़रूर करते हैं. खासकर विदेशी यात्रियों को ही इसका सबसे ज़्यादा शौक होता है. क्यूंकि वे अपने परिवारों के लिए पाक शहर मक्का मदीना से बेहतरीन तोहफे खरीदना चाहते हैं. इसी शॉपिंग को लेकर लोगों की मुश्किल अब आसान कर दी गयी है. सऊदी अरब में हज यात्रियों को खरीदारी करने के लिए विदेशी मुद्रा के लिए परेशान नहीं होना पड़ेगा।

हज यात्रियों के बेफिक्र सफर और खरीदारी के लिए भारतीय मुद्रा को विदेशी मुद्रा में बदलने की व्यवस्था हज हाउस में ही कर दी गई है। प्रत्येक यात्री यहां 10 हजार डालर यानी करीब 7 लाख 60 हजार रुपये को सऊदी रियाल में बदलवा सकता है। गौरतलब है कि हज कमेटी ऑफ इंडिया देश भर से हज पर जाने वाले प्रत्येक यात्री को सऊदी अरब में विदेशी मुद्रा की जरूरत को पूरा करने के लिए 2100 सऊदी रियाल खर्च के लिए मुहैया कराती है।

shopping madina

यूपी से हज पर जाने वाले प्रत्येक यात्री को 2100 रियाल देने की जिम्मेदारी बाम्बे मर्केंटाइल बैंक को दी गई. बैंक ने हज यात्रियों को सऊदी रियाल वितरित करने के लिए हज हाउस के मुख्य हॉल में काउंटर खोला है। यहां पर हज यात्रियों के पासपोर्ट व टिकट देखकर रियाल वितरित किए जा रहे हैं। हाजियों की तो मक्का मदीना के मार्केट में भीड़ भी देखी जा रही है.

6. भारतीय एयरलाइन Spicejet पर बैन ! लगातार 9 बार लगायी यात्रियों की जान की बाज़ी

दिल्ली हाई कोर्ट में केंद्र और संबंधित अधिकारियों को स्पाइसजेट एयरलाइंस के संचालन को रोकने के लिए निर्देश देने की मांग की गई है। ऐसा इसलिए क्यूंकि spicejet विमान में लगातार तकनीकी खराबी जैसी घटनाएं सामने आ रही है. आज सोमवार को दिल्ली पीठ के मुख्य न्यायाधीश याचिका पर सुनवाई करेंगे।

जानिये कब तक लगी रहेगी रोक

साथ ही याचिका में यात्रियों की सुरक्षा चिंता को देखते हुए उन यात्रियों को उचित मुआवजा की भी मांग की गयी है. याचिका अधिवक्ता राहुल भारद्वाज और उनके चार साल के बेटे ने दायर की है। उन्होंने नागरिक उड्डयन मंत्रालय, डीजीसीए और अन्य को एक विशेष फास्ट ट्रैक आयोग गठित करने का निर्देश देने की मांग की है. स्पाइसजेट एयरलाइंस का संचालन तब तक रोकने की मांग की है, जब तक सुरक्षा के पैमानों का पालन नहीं किया जाता।

स्पाइसजेट के सीएमडी अजय सिंह ने कही बड़ी बात

याचिका में आरोप लगाया है कि एयरलाइनों ने कानून के शासन के बुनियादी सिद्धांतों का उल्लंघन किया है, जिसमें यात्रियों को जिंदगी दाव पर लग गयी. वहीँ स्पाइसजेट के सीएमडी अजय सिंह ने हाल ही में एएनआई से कहा कि स्पाइसजेट 15 वर्षों से एक सुरक्षित एयरलाइन चला रहा है। जिस तरह की घटनाओं के बारे में बात की जा रही है, वह तुच्छ हैं और एयरलाइनों में दैनिक आधार पर होती हैं। औसतन ऐसी 30 ऐसी घटनाएं हर दिन सामे आती हैं।

spicejet

पिछले कुछ दिनों में 9 घटनाएं, जानिए कब कब हुई घटनाएं :

5 जुलाई को भी स्पाइस जेट बोइंग 737 मालवाहक (कार्गो विमान) को वापस कोलकाता में लैंड कराया गया। यह विमान कोलकाता से चीन के चोंगकिंग जा रहा था।

2 जुलाई को दिल्ली से जबलपुर जा रहे स्पाइसजेट के विमान में आई थी गड़बड़ी

25 जून को पटना से गुवाहाटी जा रहे स्पाइसजेट के विमान में मिली दिक्कत

19 जून को पटना से दिल्ली जा रहे स्पाइसजेट के विमान में आई थी परेशानी

इस 11 जुलाई को स्पाइसजेट B737 एयरक्राफ्ट VT-SZK को मैंगलोर से दुबई भेजा गया था ओर इसे वापस भारत आना था।

7. अरब में नया कानून हुआ पास ! अगर छुट्टियों में भी भारतीय कामगारों ने किया काम तो मिलेगा मुआवज़ा

संयुक्त अरब अमीरात में काम करने वाले सभी कामगारों को बकरीद की छुट्टियां दी गयी थी मगर कुछ कामगार थे जो इस हॉलिडे पर भी काम किया है. तो इसी पर एक नया फैसला आया है कि अगर आपने Eid Al Adha ब्रेक के दौरान काम किया है तो इसके लिए आपको मुआवजा मिलना चाहिए।

UAE के श्रम कानून के मुताबिक किसी भी हॉलीडे के दौरान कामगार को छुट्टी देना जरूरी है। लेकिन अगर किसी कारणवश कामगार को काम करना पड़ता है तो कंपनी को उसे मुआवजा देना होगा। पब्लिक हॉलीडे के दौरान भी कभी कभी कर्मचारियों से नियोक्ता काम कराते हैं। यानी कि हॉलीडे के दौरान उनकी छुट्टी नहीं रहती है।

काम के डिमांड के अनुसार उन्हें काम करना पड़ता है. इसलिए कामगारों को मुआवज़ा देना कंपनी का कर्त्तव्य हो जाता है. अगर वाकई कंपनी ने काम करवाया है तो बदले में कामगारों को या तो मुवाअज़ा देदे या उन्हें छुट्टी देदे। यह कानून अनिवार्य है.

8. बड़ा हादसा: अबुधाबी के Mussafah R6 इलाके में स्थित 30 मंज़िला ईमारत में लगी भीषण आग ! 19 लोग…

अबुधाबी में कल रविवार 17 जुलाई को बड़ा हादसा हुआ है जहाँ अबू धाबी के Mussafah R6 इलाके में एक बिल्डिंग में आग लग गयी. यह हादसा दोपहर के समय में हुआ है. आग लगने की सुचना जैसे ही मिली वैसे ही तुरंत फायर टीमों को बुलाया गया और वे आकर आग को बुझाने का काम शुरू किया।

अबुधाबी में स्थित यह बिल्डिंग 30 मंज़िला ईमारत में भीषण आग लगी थी. पुलिस और सिविल डिफेंस की टीम Al Zahiyah इलाके में 30 मंजिला इमारत में लगी आग को जल्दी जल्दी बुझा लिया गया. इसमें करीब 19 लोग घायल हुए हैं। घायलों को राहत दिलाने की अस्पताल में भर्ती कराया गया जहाँ उनका इलाज चल रहा है. बता दे कि इस हादसे में किसी की जान नहीं गयी है.

abudhabi aag

9. सऊदी अरब से अभी भारत पैसा भेजने पर मिला रहा ज़बरदस्त मुनाफा ! देखिए आज 18 जुलाई का एक्सचेंज रेट

सऊदी अरब में विभिन्न लेनदेन केंद्रों के अनुसार, आज 18 जुलाई को ताज़ा सऊदी रियाल की एक्सचेंज रेट जारी हुआ है.जिसे जानना प्रवासी और विदेशी भारतीयों या पाकिस्तानियों के लिए अनिवार्य है. पाकिस्तान, भारत को प्रेषण के लिए रियाल दर, लेनदेन केंद्र का नाम और शुल्क के साथ लेनदेन fees पर VAT जारी किया गया है.

exchnage rate

भारत के लिए नया एक्सचेंज रेट

इंस्टेंट (बैंक अल जज़ीरा): 20 रुपये 96 पैसे, शुल्क: 10 रियाल
एसटीसी वेतन: 20 रुपये 85 पैसे, शुल्क: 17.25 रियाल
अल-राझी कस्टडी (अल-राझी बैंक): 21 रुपये 08 पैसे, शुल्क: 20 रियाल
वेस्टर्न यूनियन (भेजना): 20 रुपये 96 पैसे, शुल्क: 17.25 रियाल
मनीग्राम: 20 रुपये 89 पैसे, शुल्क: 23 रियाल
अंजाज़ बैंक (बैंक अल-बलाद): 21 रुपये 03 पैसे, शुल्क: 15 रियाल

10. कुवैत के इन प्रवासियों का Iqama बढ़ाया गया, मंत्रालय ने दी बड़ी खुशखबरी

कुवैत में प्रवासियों के लिए खुशखबरी आ गयी है. जहाँ कुवैत में सरकारी स्कूल में काम करने वाले करीब 4,500 शिक्षकों का iqamas रिन्यू कर दिया गया है। कुवैती अधिकारियों के द्वारा मिली इस जानकारी के बाद सभी खुश हैं। बता दे कि नए सिस्टम के तहत लोगों को यह सेवा दी जा रही है.

कुवैत के शिक्षा विभाग ने आंतरिक मंत्रालय से अनुमति लेने के बाद स्कूल शिक्षक के इकामा को एक के बजाए दो साल बढ़ा दिया है। हालांकि अभी इस बात की पुष्टि नहीं की गई है कि इस सिस्टम से कितने प्रवासियों को फायदा मिलेगा लेकिन जिन लोगों का नाम इस लिस्ट में शमिल है उनके लिए यह अच्छी खबर है.

kuwait ikama

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

Most Popular