HomeKuwaitआज 24 जुलाई की अरब देशों की 10 बड़ी खबरें जानिए विस्तार...

आज 24 जुलाई की अरब देशों की 10 बड़ी खबरें जानिए विस्तार से !

1. भारतीय प्रवासी का अगर सऊदी वीज़ा हो जाए Expire तो बड़ी दिक्क्त… वापस नहीं आ सकते सऊदी और सारा डाटा खत्म

-----------------------------------------------------------------------------------------------------------

सऊदी अरब के प्रवासियों के लिए एक नयी और ख़ास जानकारी सामने आयी है जिसे जानना उनके लिए फायदेमंद साबित हो सकता है. दरअसल सऊदी जवाज़ात ने कहा कि अगर कामगार exit and re-entry visa पर देश छोड़कर जाता है और वीजा के एक्सपायर होने के पहले नहीं लौटता है तो Ministry of Human Resources and Social Development (MHRSD)’s data bank से उसका डाटा हमेशा के लिए डिलीट हो जायेगा और कोई रिकॉर्ड नहीं रहेगा।

सऊदी मंत्रालय ने कहा है कि अगर कामगार के जाने के बाद वीज़ा एक्सपायर हो जाता है तो जवाज़ात में उसका स्टेटस “exited and did not return” हो जाता है. साथ ही MHRSD से उसका डाटा हमेशा के लिए डिलीट हो जाता है और उसका स्टेटस “absent from work” हो जाता है। इसलिए कम्पनियों से अपील की गई है कि MHRSD के द्वारा ही विदेशी कामगारों का डाटा अपडेट करें। अगर ऐसा नहीं होता है तो कामगारों को परेशानी का सामना करना पड़ सकता है.

2. अगले महीने अगस्त में सऊदी अरब में तापमान होगा 50 डिग्री सेल्सियस से भी पार ! गर्मी का High Alert जारी

सऊदी अरब के मौसम विभाग ने चेतावनी देते हुए कहा कि अगले महीने देश के कुछ इलाकों में तापमान 50 डिग्री से ऊपर जाने की संभावना है. जिससे तपती चिलचिलाती धुप से लोगों का जीना हराम हो सकता है. राज्य में जलवायु परिवर्तन के संबंध में प्राप्त रिपोर्टों में, यह संभव है कि अगस्त के अगले महीने में राज्य के पूर्वी तटीय क्षेत्र में, विशेष रूप से करमदीना मुनोरा पारा 50 तक पहुंच जाएगा। एक डिग्री से भी अधिक हो सकता है।

saudi heat wave

सऊदी अरब के कुछ जलवायु मानचित्र बताते हैं कि 50 साल बाद तापमान 60 डिग्री तक पहुंच जाएगा, जो सही नहीं है क्योंकि इतने उच्च तापमान में रहना संभव नहीं है. अगले महीने अगस्त में पड़ने वाली गर्मी में लोग कैसे रहेंगे ये एक बड़ी समस्या है.

3. खाली प्लास्टिक बॉटल जमा करें और फ्री में कहीं भी जाएँ बस से घूमने, अमीरात में शुरू नई पहल, जानिए पूरा process

इस साल मार्च में transport authority – Integrated Transport Centre (ITC) ने ‘Points for Plastic Bus Tariff’ नामक पहल शुरू की गई है। बता दे कि इस पहल की शुरुआत पर्यावरण की सुरक्षा के लिए ITC, the Environment Agency Abu Dhabi (EAD), the waste sector regulator, और the Abu Dhabi Waste Management Centre – Tadweer ने मिलकर की है।

अबू धाबी के Central Bus Station पर लगे मशीन में खाली प्लास्टिक बॉटल जमा करने पर यात्रियों को पॉइंट मिलता है। इन पॉइंट का इस्तेमाल वह पब्लिक बसों में फ्री ट्रिप के लिए कर सकते हैं। बता दे कि एक पॉइंट ten fils के बराबर होते हैं. लोगों को ऑफर देकर देश में प्लास्टिक कम करने का और उनका वेस्ट न करने का ये अच्छा तरीका है.

600 ml या इससे कम के बॉटल होने पर एक पॉइंट मिलता है। 600 ml से अधिक होने पर दो पॉइंट मिलते हैं। यह सारे पॉइंट Hafilat bus card में जुड़ जाते हैं। यात्री इनका इस्तेमाल अपनी सुविधा अनुसार कर सकते हैं.

plastic

4. खाड़ी देश क़तर में भी आया मंकीपॉक्स ! देश में पहला केस, सरकार ने कर दिया Guidelines जारी

अरब देश क़तर में भी मंकीपॉक्स के पहले केस ने दस्तक दे दी है. क़तर के स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि देश में मंकीपॉक्स का पहला मामला दर्ज किया गया है। बताया गया कि विदेश से आने वाले यात्री में यह संक्रमण पाया गया है। यात्री को isolated कर दिया गया है. साथ ही उसे ज़रूरी मेडिकल सुविधा भी दी जा रही है ताकि उसकी हालत सुधर सके और संक्रमण न फैले।

स्वास्थ्य मंत्रालय ने संक्रमण से बचने के लिए सभी तरह के नियमों को जारी कर दिया है। सभी तरफ अलर्ट जारी किया गया है और कहा है कि नियमों का पालन करना जरूरी है। यात्रियों से अपील की गई है कि वह यात्रा के समय सावधानी बरतें और संक्रमण की संभावना होने पर तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें।

5. दुर्घटना न होने पर क्या किश्तों पर लिया गया Car Insurance वापस होगा ! जानिए सऊदी मंत्रालय का नया नियम

सऊदी अरब के कानूनी सलाहकार अब्दुल रहमान जबेर रबी ने कहा है कि अगर कोई यातायात दुर्घटना नहीं होती है, तो किराए पर कार लेने वाले को बीमा राशि वापस करनी होगी। न्यायविद रबी ने आगे कहा है कि जो लोग ‘ताजिरलाट तामलेक’ (रेंट फॉर ओनरशिप सिस्टम) के सिद्धांत के तहत किश्तों पर कार लेते हैं, उन्हें वाहन फाइनेंसिंग कंपनी या बैंक प्राप्त करने का अधिकार है।

बीमा राशि वापस प्राप्त करें यदि योजना के दौरान कोई यातायात दुर्घटना नहीं होती है. अधिशेष बीमा छूट के कार्यान्वयन से पहले और बाद में मूल प्रीमियम के बीच के अंतर से संबंधित है. दरअसल सऊदी अरब में कई बैंक और निवेश कंपनियां वाहन खरीदती हैं और फिर इन वाहनों को स्थानीय नागरिकों और प्रवासियों को एक विशेष प्रणाली (ताजिरलाट तामलेक) के तहत पट्टे पर देती हैं।

saudi car insurance

यह निर्धारित करता है कि ग्राहक किश्तों को पूरा करने के बाद अंतिम राशि का भुगतान करके अपने नाम पर वाहन खरीद सकता है. इस संबंध में कानूनी सलाहकार का कहना है कि जो लोग इस योजना के तहत वाहन का पंजीकरण कराते हैं, उन्हें बीमा छूट लागू होने से पहले और बाद की किस्त अवधि के लिए वार्षिक बीमा राशि के बीच का अंतर वापस मिल सकता है.

कानूनी सलाहकार ने एक उदाहरण देते हुए इसे स्पष्ट किया कि यदि वाहन की कीमत 100,000 रियाल है और वाहन के मूल बीमा का प्रीमियम 4000 रियाल है और बीमा योजना के दौरान कोई दुर्घटना नहीं होती है, तो ऐसी स्थिति में बीमा कंपनी 30 का भुगतान करेगा प्रतिशत छूट देता है. इस लिहाज से बीमा शुल्क 4 हजार की जगह 2800 रियाल और 1200 रियाल का अंतर होगा।

6. पांच हज़ार गाड़ियां चोरी करके झाड़ता था नवाबी… जेल में इस्तेमाल करता रहा सऊदी अरब का मोबाइल नंबर !

गाड़ियां चुराने वाला चोर जिसका नाम नवाब है वो एक बहुत बड़े नेटवर्क से जुड़ा है. बता दे कि Vehicles Thieve Nawab पंद्रह हजार के इनामी वाहन चोर नवाब का पुलिस में भी बड़ा नेटवर्क है। कई बार थाने की हवालात तक पहुंचने के बाद भी पुलिस उसे जेल नहीं भेज पाई। सऊदी अरब का मोबाइल नंबर प्रयोग करता है। इसलिए कई बार पुलिस को गच्छा भी दे चुका है.

मगर अब SSP ने नवाब से पूछताछ के बाद पुलिसकर्मियों को दी गई गाड़ियों पर भी जांच बैठा दी है. लिसाड़ीगेट पुलिस से सौदाबाजी के मामले में भी सीओ से जांच रिपोर्ट मांगी गई है। बुधवार की रात वाहन चोर नवाब पुत्र जलालुद्दीन निवासी पूर्वा इलाही बक्श थाना कोतवाली और उसके साथी इमरान उर्फ टट्टी को शौकिन गार्डन में पुलिस ने घेर लिया था। नवाब तो पकड़ा गया मगर इमरान चकमा देकर भाग गया।

परिवार से बातचीत, अच्छा खाना पीना सब कुछ मिला

नवाब के पैर में गोली लगने के बाद इलाज कराकर उसे जेल भेज दिया गया। मगर जेल जाने के बड़ा भी उसके रुतबे कम नहीं हुए गिरफ्तारी के बाद भी नवाब को पुलिस ने सभी सुविधा मुहैया कराई। हर समय परिवार और अन्य लोगों से फोन पर बातचीत करता रहा। पुलिस जांच में सामने आया कि पुलिस से बचने के लिए नवाब सऊदी अरब के मोबाइल नंबर पर whatsapp इस्तेमाल कर रहा है.

up police

नवाब ने बताया कि पांच हजार से ज्यादा वाहन चोरी कर चुका है। काफी वाहन पुलिसकर्मियों को ही मुहैया करा चुका है। एसओजी के सिपाही को क्रेटा भी नवाब ने ही मुहैया कराई थी। उसी क्रेटा की शिकायत पर सिपाही की जांच बैठ गई थी. एसपी क्राइम अनित कुमार ने बताया कि नवाब की तरफ से पुलिसकर्मियों को दिए गए वाहनों की जांच की जा रही है।

7. गैर मुस्लिम यहूदी पत्रकार घुस गया मक्का में… छिड़ा दुनिया भर में बवाल ! सऊदी और इजराइल के रिश्ते खराब

मक्का मदीना में हज यात्रा के दौरान धोखे से से एक इजरायली पत्रकार घुस गया जिसके बाद बवाल छिड़ चुका है. बवाल छिड़ने का कारन यह हो सकता है कि यह पत्रकार यहूदी है. इसी बीच इस पूरे मामले पर इजरायल की तरफ से भी बयान सामने आया है। इजरायल के एक मंत्री ने ना सिर्फ इसकी आलोचना की बल्कि उन्होंने सऊदी से इजरायल के रिश्ते पर भी अपनी बात रखी.

दरअसल, इजरायल के एक लोकप्रिय चैनल की वर्ल्ड सर्विस के हेड गिल तमारी मक्का शहर में घूमते और रिपोर्टिंग करते दिख रहे हैं। गिल तमारी यहूदी धर्म से संबंध रखते हैं जबकि मक्का शहर की सीमा के अंदर किसी भी गैर मुस्लिम के प्रवेश पर रोक है। अगर कोई गैर मुस्लिम ऐसा करते पाया गया तो उस पर जुर्माना लग जाएगा। इस वजह से गिल तमारी का वीडियो सामने आने के बाद लोग उन पर भड़क गए हैं.

इजरायल सरकार में मंत्री इसावी फ्रेज ने बयान दिया कि यह एक बेवकूफाना हरकत है। मुझे खेद है कि इसमें गर्व महसूस करने जैसा कुछ नहीं है क्योंकि यह गैरजिम्मेदाराना काम है और रेटिंग्स के लिए इस रिपोर्ट को किया गया। फ्रेज ने कहा कि इससे सिर्फ सऊदी अरब, इजरायल के रिश्तों को सामान्य करने के प्रयासों की संभावना को ही नुकसान पहुंचेगा।

israel journalist

इतना ही नहीं फ्रेज ने यह भी कहा कि मक्का मुस्लिमों का पवित्र स्थान है। वहां जाने का क्या मतलब था। वहां से रिपोर्टिंग करनी थी तो किसी मुस्लिम पत्रकार को भेज देते। इस घटना से हुआ नुकसान बहुत अधिक होगा। हालांकि जब यह मामला आगे बढ़ गया तो खुद तमारी और उनके चैनल ने माफी तो मांग ली.

8. 30 जुलाई को मनाया जायेगा “Islamic New Year” ! सभी प्राइवेट और पब्लिक सेक्टरों के कामगारों की छुट्टियाँ

बकरीद का महीना इस्लामिक तौर पर आखिरी महीना होता है और इसके बाद नया इस्लामिक साल शुरू हो जाता है. बता दे कि इस्लामिक साल का पहला महीना मुहर्रम होता है. अंग्रेजी कलैंडर के हिसाब से बात करें तो अगले महीने अगस्त में मुहर्रम आने वाला है और नए हिजरी साल 1444 AH होगा। इसी मौके पर अरब देशों में छुट्टियों की घोषणा हुई है.

खाड़ी देश ओमान में प्राइवेट और पब्लिक सेक्टर के कामगारों के लिए new Hijri year 1444 AH के मौके पर छुट्टी की घोषणा की गई है। मिली जानकारी के अनुसार Prophet’s Hijra Anniversary और new Hijri year 1444 AH का मौके पर रविवार, 31 जुलाई 2022 को छुट्टी रहेगी।

देश के श्रम मंत्रालय ने अपने बयान में कहा है कि रविवार, 31 जुलाई 2022 को प्राइवेट और पब्लिक सेक्टर के कामगारों के लिए छुट्टी का दिन रहेगा। सभी सरकारी और प्राइवेट संस्थानों में छुट्टी रहेगी। क्यूंकि नया साल शुरू होने वाला है.

year

9. एयरपोर्ट पर Boarding Pass के लिए अब नहीं देना होगा फीस ! जानिए नया नियम

भारत में हवाई यात्रा करना अब बहुत महंगा हो गया है. टिकट के दाम तो बढ़ ही रहे हैं साथ ही अलग अलग तरह के फीस भी अब लगाए जा रहे हैं. जिससे यात्रियों की परेशानी बढ़ती ही जा रही है. सोशल मीडिया पर यात्रियों ने एयरलाइन के check-in counters पर बोर्डिंग पास के लिए अधिक फीस लेने पर Aviation Ministry ने इस बार चेतावनी जारी कर दी है.

केंद्रीय उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने एक पोस्ट को रीट्वीट करके कहा था कि इस मामले में कदम उठाए जाएंगे। पोस्ट में एक यूजर ने कहा था कि स्पाइसजेट के नए नियम के मुताबिक अगर आपको चेक इन काउंटर पर बोर्डिंग पास लेना है तो अतिरिक्त शुल्क देना होगा। यह शायद कुछ ऐसा ही है कि रेस्टोरेंट में आप खाना खाने जाए और आपसे कहा जाए कि प्लेट में खाने के लिए आपको और ज़्यादा फीस देने होंगे।

इस पर दूसरे यूजर का भी पोस्ट सामने आया जिसने कहा था कि इंडिगो भी काफी समय से ऐसा ही कर रही है. एयरपोर्ट पर यात्रियों का बोर्डिंग पास जारी करने के लिए ₹200 तक लिए जा रहे हैं. बोर्डिंग पास जारी करने के लिए यात्रियों से मनमाना तरीके से रकम वसूल करना सही नहीं है।

Aviation Ministry ने इस रवैए के खिलाफ सख्त चेतावनी देते हुए कहा है कि एयरलाइन एयरपोर्ट पर check-in counters पर बोर्डिंग पास लेने वालों से अतिरिक्त शुल्क चार्ज नहीं कर सकती है. मंत्रालय ने साफ साफ कहा है कि एयरलाइन को निर्देश दिया जाता है कि check-in counters पर बोर्डिंग पास लेने वालों से अतिरिक्त शुल्क न वसूलें, क्योंकि इसे Aircraft Rules के Rule 135 के तहत प्रदान किए गए टैरिफ के भीतर नहीं माना जा सकता है.

aviation

10. UAE में 5.3 की तीव्रता का आया भूकंप ! मच गयी अफरा-तफरी

कल शनिवार की देर शाम को संयुक्त अरब अमीरात में तेज़ भूकंप के झटके आये थे. जिसकी तीव्रता रिक्टर स्केल पर 5.3 मापी गयी. निवासियों ने लगभग 30 सेकंड तक झटके को महसूस किया। दरअसल दक्षिणी ईरान में 5.3-तीव्रता के भूकंप से झटके आए थे, जिस कारण असर UAE तक देखने को महसूस करने को मिला।

दुबई, शारजाह और अजमान के निवासियों ने भूकंप को कैसे अनुभव किया यह उन्होंने आपस में सोशल मिडिया पर भी शेयर किया। UAE एनसीएम के एक अधिकारी ने बताया कि यूएई के निवासियों को भूकंप के बारे में चिंता नहीं करनी चाहिए क्योंकि देश में इमारतें वैश्विक भूकंपीय कोड लागू करती हैं. यानी कि भूकंप पर कोई नुक्सान नहीं होगा वे सुरक्षित हैं.

uae earthquake

आपको बता दे कि यूएई सरकार ने natural disaster को मद्देनज़र रखते हुए सारी बिल्डिंग्स का निर्माण किया है. देश के सभी बिल्डिंग व ईमारत seismic design code से बने हुए हैं. इसलिए निवासियों को इन भूकंपों के बारे में चिंता नहीं करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि देश के उत्तरी हिस्से में फुजैरा और रास अल खैमाह जैसे लोगों को झटके महसूस करने की अब आदत सी हो गयी है. क्योंकि वे ईरान के दक्षिण के करीब हैं, जो देश के अधिकांश भूकंपों का केंद्र है.

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

Most Popular