5 हज़ार गाड़ियां चोरी करके झाड़ता था नवाबी ! करता था सऊदी अरब का मोबाइल no. इस्तेमाल मगर…

गाड़ियां चुराने वाला चोर जिसका नाम नवाब है वो एक बहुत बड़े नेटवर्क से जुड़ा है. बता दे कि Vehicles Thieve Nawab पंद्रह हजार के इनामी वाहन चोर नवाब का पुलिस में भी बड़ा नेटवर्क है। कई बार थाने की हवालात तक पहुंचने के बाद भी पुलिस उसे जेल नहीं भेज पाई। सऊदी अरब का मोबाइल नंबर प्रयोग करता है। इसलिए कई बार पुलिस को गच्छा भी दे चुका है.

arrested

नवाब के गिरफ्तारी के बाद भी जेल में मिली हर सुविधा

मगर अब SSP ने नवाब से पूछताछ के बाद पुलिसकर्मियों को दी गई गाड़ियों पर भी जांच बैठा दी है. लिसाड़ीगेट पुलिस से सौदाबाजी के मामले में भी सीओ से जांच रिपोर्ट मांगी गई है। बुधवार की रात वाहन चोर नवाब पुत्र जलालुद्दीन निवासी पूर्वा इलाही बक्श थाना कोतवाली और उसके साथी इमरान उर्फ टट्टी को शौकिन गार्डन में पुलिस ने घेर लिया था। नवाब तो पकड़ा गया मगर इमरान चकमा देकर भाग गया।

परिवार से बातचीत, अच्छा खाना पीना सब कुछ मिला

नवाब के पैर में गोली लगने के बाद इलाज कराकर उसे जेल भेज दिया गया। मगर जेल जाने के बड़ा भी उसके रुतबे कम नहीं हुए गिरफ्तारी के बाद भी नवाब को पुलिस ने सभी सुविधा मुहैया कराई। हर समय परिवार और अन्य लोगों से फोन पर बातचीत करता रहा। पुलिस जांच में सामने आया कि पुलिस से बचने के लिए नवाब सऊदी अरब के मोबाइल नंबर पर whatsapp इस्तेमाल कर रहा है.

scam

5 हज़ार से अधिक वाहनों की करी चोरी

नवाब ने बताया कि पांच हजार से ज्यादा वाहन चोरी कर चुका है। काफी वाहन पुलिसकर्मियों को ही मुहैया करा चुका है। एसओजी के सिपाही को क्रेटा भी नवाब ने ही मुहैया कराई थी। उसी क्रेटा की शिकायत पर सिपाही की जांच बैठ गई थी. एसपी क्राइम अनित कुमार ने बताया कि नवाब की तरफ से पुलिसकर्मियों को दिए गए वाहनों की जांच की जा रही है।

Leave a Comment