क्या है NRE और NRO अकाउंट, भारतीय प्रवासियों को मिला UPI सिस्टम पेमेंट !

अभी कुछ दिन पहले ही विदेशों में रहने वाले भारतीयों को एक सुगम सुविधा मुहैया कराई गयी है. ऐसी सुविधा जिससे वे भारत में बिना रहे यानी विदेशों में रहकर भी UPI पेमेंट सिस्टम का इस्तेमाल कर सकते हैं ! जी हाँ NRI यानी भारतीय प्रवासी अपने इंटरनेशनल नंबर से ही UPI पेमेंट कर सकते हैं !

10 देशों में रहने वाले भारतीयों को UPI पेमेंट सुविधा

इस खबर को जानने के बाद भारतीय प्रवासियों के चेहरे पर ख़ुशी तो है मगर कुछ के मन में ये सवाल भी आ रहा है कि आखिर ये NRE और NRO अकाउंट क्या होता है, एक भारतीय के लिए ये अकाउंट किस तरह लाभकारी साबित होता है ! तो आपको इन्ही अकाउंट के बारे में बताएँगे ! अभी फिलहाल 10 देशों में रहने वाले भारतीयों को UPI पेमेंट सुविधा दी गयी है जिनमे सिंगापुर, अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया, कनाडा, हांगकांग, ओमान, कतर, सऊदी अरब, संयुक्‍त अरब अमीरात (यूएई) और ब्रिटेन (यूके) शामिल हैं.

क्या है NRE और NRO अकाउंट

बता दें कि NRE खाता एक NRI यानी भारतीय प्रवासी के नाम पर भारत में खोला गया वह बैंक खाता है, जो उसकी विदेशी कमाई को रखता करता है, जबकि एक NRO खाता भारत में एक NRI के नाम पर खोला गया वह बैंक खाता है, जो उसकी कमाई के पैसों को मानेज करता है। इन आय में किराया, लाभांश, पेंशन, ब्याज आदि शामिल हैं।

NRE का फुल फॉर्म है Non-Residential External Account (NRE) और NRO का फुल फॉर्म है Non Resident Ordinary Account. NPCI ने 10 जनवरी 2023 को UPI की सुविधा दे रहे प्रतिभागियों से 30 अप्रैल तक व्यवस्था बनाने को कहा है.

ऑनलाइन पेमेंट्स के सबसे पॉपुलर मीडियम UPI

मौजूदा समय में ऑनलाइन पेमेंट्स के सबसे पॉपुलर मीडियम यूपीआई को अब दूसरे देशों में रहने वाले भारतीयों के लिए भी शुरू कर दिया गया है, नेशनल पेमेंट्स कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया के मुताबिक NRI अब अपने इंटरनेशनल मोबाइल नंबर के जरिए पेमेंट्स के लिए यूपीआई यानी यूनिफाइड पेमेंट इंटरफेस का उपयोग कर सकेंगे।

Leave a Comment