HomeIndiaइसे कहते हैं किस्मत ! कर्ज के लिए काट रहा था बैंक...

इसे कहते हैं किस्मत ! कर्ज के लिए काट रहा था बैंक का चक्कर, इस ऑटो ड्राइवर की लग गई 25 करोड़ की लॉटरी

कहते हैं जब ऊपर वाला देना शुरू करता है तो छप्पर फाड़ के देता है, कभी कदार ऐसी कहावत बिलकुल सही साबित हो जाती है. ठीक ऐसा ही एक मामूली से रिक्शे वाले के साथ हुआ जिसकी किस्मत ऐसी पलट गयी कि कोई भी सुनने वाला चौंक जाए. दरअसल इस ऑटो रिक्शा वाले का नाम अनूप है जिसने करोड़ों की लॉटरी जीतकर अपनी किस्मत चमका ली है.

आर्थिक तंगी से परेशान रिक्शा चालक अनूप मलेशिया जाकर अपने परिवार के लिए पैसे कमाने की योजना बना रहा था। वह मलेशिया में खाना पकाने का काम करने वाला था। इसके लिए बैंक से तीन लाख रुपए के लोन के लिए आवेदन दिया था। इस बीच किस्मत पलटी और वह 25 करोड़ रुपए की लॉटरी जीत गया। इस रविवार को ही अनूप ने 25 करोड़ रुपए की ओनम बंपर लॉटरी जीता। उसने शनिवार को ही बैंक में लोन के लिए आवेदन दिया था।

lottery

श्रीवरहम में रहने वाले अनूप ने शनिवार को लॉटरी का टिकट (TJ 750605) खरीदा था। उसने पहला लॉटरी टिकट खरीदा, लेकिन उसका नंबर पसंद नहीं आया। इसके बाद अनूप ने एक और टिकट खरीदा। इसी टिकट ने उसे करोड़पति बना दिया। 25 करोड़ की लॉटरी जीतने के बाद अनूप ने लोन लेने और मलेशिया जाने का प्लान रद्द कर दिया। अनूप ने बताया कि उसे बैंक की ओर से लोन के संबंध में कॉल आया था। उसने कहा कि अब मुझे पैसे की जरूरत नहीं रही।

मैं अब मलेशिया भी नहीं जा रहा हूं। अनूप ने बताया कि वह 22 साल से लॉटरी टिकट खरीद रहा है। उसने पहले कुछ सौ रुपए से लेकर अधिकतम 5 हजार रुपए तक की लॉटरी जीती थी। अनूप ने कहा, “मुझे लॉटरी जीतने की उम्मीद नहीं थी, इसलिए मैं टीवी पर लॉटरी रिजल्ट भी नहीं देख रहा था। इसी दौरान मेरे मोबाइल फोन पर मैसेज आया। मैसेज में लिखा था कि मैंने 25 करोड़ की लॉटरी जीत ली है। मुझे इसपर यकीन नहीं हुआ। मैंने पत्नी को मैसेज दिखाया। उसने पुष्टि की कि लॉटरी का नंबर वही है, जिसे मैंने खरीदा था। इसके बाद भी मैं तनाव में था। मैंने उस महिला को फोन किया, जिससे लॉटरी टिकट खरीदी थी।

lottery

उसने मुझे अपने टिकट का फोटो भेजने को कहा। फोटो देखकर उसने कंफर्म किया कि मैं 25 करोड़ की लॉटरी जीत गया हूं।” बता दे कि अनूप ने भले ही 25 करोड़ रुपए की लॉटरी जीती हो, लेकिन उन्हें टैक्स काटने के बाद करीब 15 करोड़ रुपए मिलेंगे। लॉटरी के पैसे का क्या करेंगे? यह पूछे जाने पर अनूप ने कहा कि सबसे पहले मैं अपने परिवार के लिए घर बनाऊंगा। मुझे अपने कर्ज भी वापस करने हैं। मैं अपने कुछ जरूरतमंद रिश्तेदारों की मदद करूंगा। कुछ पैसे मैं परोपकार के काम में भी खर्च करूंगा। मैं केरल में होटल चलने का काम शुरू करूंगा।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

Most Popular