दुबई से आये पैसेंजर्स के टेस्ट रिपोर्ट क इंतज़ार, एयरपोर्ट पर कुछ ऐसे हालात में दिखे विदेशी यात्री !

देवी अहिल्या इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर विदेशी नागरिक बिना मास्क के घूमते नजर आ रहे हैं ! एयरपोर्ट एडमिनिस्ट्रेशन के अधिकारियों का कहना है कि सरकार की गाइडलाइन के अनुसार विदेश से आने वाली फ्लाइट के यात्रियों की रैंडम जांच की है, जो भी निर्देश मिलेंगे उनका पालन करेंगे। वहीं यात्रियों की माने तो दुबई एयरपोर्ट पर कोरोना को लेकर कोई चेकिंग नहीं हुई।

रैंडम सैम्पलिंग के लिए एयरपोर्ट पर पहुंच गई थी टीम

दरअसल, दुबई से शनिवार शाम 5.40 बजे एयर इंडिया की वीकली फ्लाइट इंदौर पहुंची। फ्लाइट समय पर थी। इस फ्लाइट में 117 यात्री सवार थे। कोरोना केसेस बढ़ने के बाद से भारत सरकार के स्वास्थ्य मंत्रालय ने भी विदेश से आने वाली सभी फ्लाइट्स में रैंडम सैंपलिंग के निर्देश दिए हैं। फ्लाइट आने से पहले स्वास्थ्य विभाग की टीम भी एयरपोर्ट पर पहुंच गई थी। दुबई से आई फ्लाइट के 3 यात्रियों के कोरोना के लिए रैंडम सैंपल लिए गए। वहीं, इंदौर में पिछले 24 घंटे में लिए गए कोरोना सैंपल में एक पॉजिटिव मरीज मिला है।

एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया ने ऐसे एयरपोर्ट्स जहां चीन, अमेरिका, जापान, ब्राजील, साउथ कोरिया और फ्रांस से सीधी उड़ाने आती हैं, वहां विशेष सतर्कता के साथ ही देश के सभी अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट पर 24 दिसंबर को सुबह 10 बजे से विदेशों से आने वाली सभी अंतरराष्ट्रीय उड़ानों के यात्रियों में से 2 प्रतिशत की रैंडम आधार पर जांच के लिए कहा है।

15 दिन बाद NRI सम्मेलन

इंदौर से विदेश जाने वाली मात्र एक ही सीधी उड़ान का संचालन होता है, जो दुबई के लिए है। दुबई के लिए सोमवार को फ्लाइट इंदौर से संचालित होती है, जबकि वापसी में शनिवार को फ्लाइट दुबई से इंदौर आती है। शनिवार को पहला मौका था, जब सरकार के निर्देश के बाद दुबई से फ्लाइट में सवार यात्रियों के सैंपल लिए गए।

airport

लेकिन अब महज पंद्रह दिन बाद शहर में NRI सम्मेलन होने वाला है, जो कि अब तक का सबसे बड़ा इवेंट है। एहतियात के लिए सैंपल लेने के प्रतिशत में वृद्धि की जानी चाहिए, क्योंकि यहां सिर्फ एक ही अंतर्राष्ट्रीय फ्लाइट संचालित हो रही है और वो फ्लाइट भी रोजाना नहीं चल रही है। साथ ही एयरपोर्ट पर मास्क में मिली छूट पर भी पाबंदी लगाई जा सकती है।

Leave a Comment