उत्तर प्रदेश के 18 वर्षीय लड़के ने दुनिया के सबसे शक्तिशाली एयरपोर्ट को उड़ाने कि दी धमकी, कहा अगर…

उत्तर प्रदेश के 18 वर्षीय लड़के ने दुनिया के सबसे शक्तिशाली एयरपोर्ट को उड़ाने कि दी धमकी, कहा अगर…

लखनऊ से एक बड़ा ही रोचक किस्सा सामने आ रहा है जिसमे एक 18 वर्षीय युवक ने अमेरिका के मियामी एयरपोर्ट को उड़ाने की धमकी दी है. हालांकि इस युवक को उत्तर प्रदेश एंटी टेररिस्ट स्क्वाड (ATS) की टीम ने गिरफ्तार कर लिया है और अधिकारियों के मुताबिक़ इस युवक ने कई बार मियामी एयरपोर्ट को फ़ोन करके उसे उड़ाने की धमकी दी. युवक पर क़ानूनी कार्रवाई कर ली गयी है और इसकी जानकारी ATS के अफसर असीम अरुण ने दी.

उत्तर प्रदेश के 18 वर्षीय लड़के ने दुनिया के सबसे शक्तिशाली एयरपोर्ट को उड़ाने कि दी धमकी, कहा अगर…

क्या है पूरा मामला

युवक का कहना है की उसने 1000 डॉलर के बिटकॉइंस (Bitcoins) को ख़रीदा और खरीददारी के प्रोसेस के दौरान उसके साथ ठगी की गयी. युवक का कहना है की इस मामले में उसने अमेरिका में FBI (फ़ेडरल ब्यूरो ऑफ़ इन्वेस्टीगेशन) में भी शिकायत दर्ज कराना चाहा लेकिन उसपे कुछ ख़ास ध्यान नहीं दिया गया.
उत्तर प्रदेश के 18 वर्षीय लड़के ने दुनिया के सबसे शक्तिशाली एयरपोर्ट को उड़ाने कि दी धमकी, कहा अगर…
हताश होकर उठाया ये कदम

आखिरकार हताश और निराश होकर उस युवक ने यह कदम उठाया और उसने लगातार मियामी एयरपोर्ट में फ़ोन करके धमकी देना शुरू कर दिया. हर फ़ोन कॉल में युवक यही कहता रहता की वह Ak-47 और ____ लेकर आएगा और सभी को ____ डालेगा.

FBI ने किया

हालांकि उस युवक के कंप्लेंट पर FBI ने उचित कार्रवाई की और उस युवक से बात भी की लेकिन वह लगातार वॉइस ओवर इंटरनेट प्रोटोकॉल (VOIP) के जरिये धमकी भरा कॉल करता रहा. फ़ोन कॉल्स 2 अक्टूबर से लेकर 31 अक्टूबर के बीच किया गया और आखिरकार यह आरोपी IP Address के द्वारा उत्तर-प्रदेश पुलिस के हत्थे चढ़ गया.

उत्तर प्रदेश के 18 वर्षीय लड़के ने दुनिया के सबसे शक्तिशाली एयरपोर्ट को उड़ाने कि दी धमकी, कहा अगर…
कबूला जुर्म

पकडे जाने के बाद हुई पूछताछ में युवक ने अपना जुर्म कबुल लिया और अब इस आरोपी की कोर्ट में पेशी होनी है. वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों ने बताया की युवक के ऊपर CRPC के सेक्शन 41A के द्वारा केस दर्ज किया गया है. यह सारी जानकारी यूपी ATS के अधिकारियों ने प्रेस कांफ्रेंस के जरिये दी लेकिन उन्होंने उस युवक की पहचान को उजागर नहीं किया.

Share this story